37 साल के क्रिकेटर का ऐलान- कोरोना नहीं कर सकता मेरे करियर का फैसला

0
81

इंग्लैंड के दिग्गज तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन की उम्र 37 साल से ज्यादा हो गई है. माना जा रहा था कि वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के अपने अंतिम दौर में हैं, क्योंकि किसी क्रिकेटर को इस उम्र में खुद को फिट रखना बहुत मुश्किल माना जाता है और तेज गेंदबाज के लिए तो नामुमकिन. इसलिए माना यह जा रहा था कि वह इस साल के अंत तक खेलकर क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे, लेकिन कोरोना वायरस के कारण इस समय इंग्लैंड में ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व में क्रिकेट स्थगित हैं. ऐसे में माना यह जा रहा था कि उनका क्रिकेट करियर खत्म हो गया है. लेकिन इस क्रिकेटर ने कहा है कि कोरोना वायरस उनके करियर को विराम नहीं दे सकता. वह फिर वापसी करेंगे.

जेम्स एंडरसन ने साफ-साफ लफ्जों में कहा कि कोरोना वायरस की वजह से वह खेल से संन्यास नहीं लेने जा रहे हैं. इससे उनके खेल पर कोई असर नहीं पड़ने वाला है. वह खुद को फिट रखने पर ध्यान लगा रहे हैं और टीम के खिलाड़ियों के साथ मिल कर वर्चुअल ट्रेनिंग में हिस्सा ले रहे हैं.

टेस्ट क्रिकेट में बतौर तेज गेंदबाज सबसे ज्यादा 584 विकेट लेने वाले एंडरसन ने कहा कि वह ऐसा बिल्कुल भी नहीं सोच रहे कि अब दोबारा कभी क्रिकेट नहीं खेल पाएंगे. उन्हें तो ऐसा लग रहा है कि वह जल्दी ही दोबारा खेलेंगे. वह विकेटों के भूखे हैं. उनके भीतर इंग्लैंड के लिए खेलने की लालसा बाकी है.

बता दें कि इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने कोरोना वायरस के कारण इंग्लैंड में 28 मई तक हर तरह के क्रिकेट पर पाबंदी लगा दी है. इंग्लैंड के जो हालात हैं, उसमें लगता नहीं कि वहां मई के बाद भी क्रिकेट शुरू हो पाएगा, क्योंकि यहां अब तक करीब 10,000 लोग संक्रमित हो चुके हैं और 450 से ज्यादा लोगों की कोरोना वायरस के कारण मौत हो चुकी है.