क्राइम

बेंगलुरु में स्वीमिंग पूल के नीचे मिला 303 किलो सोना, जानिए है किसका ?

स्वीम‍िंग पूल के नीचे न‍िकला 3 क्व‍िंटल 'सोना', हकीकत जानकर चौंक गए अफसर

स्मगलिंग करने वाले पुलिस से बचने ले लिए क्या-क्या नहीं करते की वो पुलिस की गिरिफ्त न आ जाये. लेकिन ऐसा हो नहीं पाता. आज कुछ ऐसा ही हम आपको बताने जा रहे. जहाँ हजारों लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी करने वाले पोंजी स्कैम के मास्टर माइंड मंसूर खान ने स्वीम‍िंग पूल को ही नकली सोने से भर द‍िया था. यहां 5,880 नकली सोने के बिस्किट के रूप में 303 क‍िलो सोना म‍िला. इसे देखकर जाँच करने वाले अफसरों के भी होश उड़ गए. अब  जाँच करने वाले अफसर यह पता लगाने में जुटे है की आखिर इतनी भारी मात्रा में नकली सोने के ब‍िस्क‍िट का क्या इस्तेमाल होता था या होने वाला था? बताते चले यह मामला कर्नाटक के बेंगलुरू का है.

स्वीम‍िंग पूल के नीचे न‍िकला 3 क्व‍िंटल 'सोना', हकीकत जानकर चौंक गए अफसर

सूत्रों के मिली जानकारी के मुताबिक बताते चके आईएमए समूह से संबंधित करोड़ों के पोंजी घोटाला मामले की जांच कर रही विशेष जांच टीम (एसआईटी) ने एक बिल्डिंग की छठी मंजिल के स्विमिंग पूल से 303 किलो नकली सोने के बिस्किट बरामद किए हैं.. यह इमारत इस समूह के मालिक मोहम्मद मंसूर खान की है. SIT ने एक बयान में बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि पोंजी स्कीम के संचालक मोहम्मद मंसूर खान बड़ी संख्या में लोगों को सोना दिखाकर लोगों से कंपनी में निवेश करने को कहता था.

स्वीम‍िंग पूल के नीचे न‍िकला 3 क्व‍िंटल 'सोना', हकीकत जानकर चौंक गए अफसर

जानकारी के लिए बताते चले देश से फरार होने से पहले खान ने इमारत की छठी मंजिल के स्विमिंग पूल में नकली सोने की छड़ें छुपाकर रख दिए थे. एसआईटी ने इस जगह छापेमारी कर 5,880 छड़ें बरामद कीं जिनका वजन 303 किलोग्राम है. प्रवर्तन निदेशालय ने आईएमए ज्वेल्स के मालिक को पिछले महीने दिल्ली में गिरफ्तार किया था. खान फरार होकर दुबई चला गया था, लेकिन भारत लौटते ही उसे दिल्ली में गिरफ्तार कर लिया गया. एसआईटी ने इस मामले में 25 लोगों को गिरफ्तार किया है. बता  दे मंसूर खान पर  30 हजार लोगों को ठगने का आरोप है. वह एक महीने से ज्यादा समय तक फरार रहा था.

 

Back to top button