14 साल बाद इजाराइली पीएम भारत की धरती पर, पीएम मोदी देंगे नेतन्याहू को रिटर्न गिफ्ट

नई दिल्ली: इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहूू 6 दिवसीय दौरे के तहत रविवार को भारत आ रहे हैं. इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच रक्षा, कृषि, जल संरक्षण, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी और आंतरिक सुरक्षा समेत कई अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा होगी. पिछली यूपीए की मनमोहन सरकार से प्रधानमंत्री नरेंद्री मोदी सरकार के कार्यकाल में इजराइली प्रधानमंत्री का यह पहला भारत दौरा है. ऐसे मेंं यह दौरा कई माइनों में कापी अहम माना जा रहा है.

इससे पहले पिछले साल जुलाई में पीएम मोदी ने इजराइल दौरा किया था, जो पिछले 70 सालों में पहली बार किसी भारतीय पीएम का इजराइल दौरा था. तब उनका इजाराइली पीएम नेतन्याहू ने बेहद गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया था. उसी अंदाज में आज पीएम मोदी इजरायल के प्रधानमंत्री का खैरमकदम करेंगे. पीएम खुद एयरपोर्ट जाकर बेंजामिन नेतन्याहू को रिसीव करेंगे.

ये है कार्यक्रम

  • रविवार को पीएम नेतन्याहू 1.30 बजे फ्लाइट से पालम के एयरफोर्स स्टेशन पर पहुंचेंगे.
  • दोपहर 1.50 बजे वह तीन मूर्ति चौक पर जाएंगे.
  • दोपहर 2.30 बजे होटल ताज में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात.

बेंजामिन नेतन्याहू की यात्रा ऐसे समय में हो रही है जब भारत और इजरायल अपने राजनयिक संबंधों की 25वीं वर्षगांठ मना रहे हैं. भारत यात्रा के दौरान बेंजामिन नेतन्याहू दिल्ली, आगरा, अहमदाबाद और मुंबई जाएंगे. उनके साथ एक कारोबारी शिष्टमंडल भी भारत आ रहा है.

15 जनवरी को द्विपक्षीय बातचीत

पीएम मोदी और नेतन्याहू के बीच 15 जनवरी को द्विपक्षीय वार्ता हागी. दूसरे भारत इजरायल सीईओ फोरम की बैठक में दोनों राष्ट्राध्यक्ष शामिल होंगे. इसके बाद नेतन्याहू राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भेंट करेंगे. नेतन्याहू की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात का भी कार्यक्रम है.

  • 16 जनवरी को प्रधानमंत्री नेतन्याहू रायसिना डायलॉग में भाग लेंगे.
  • 17 जनवरी को उनका गुजरात में कृषि क्षेत्र में राष्ट्रीय उत्कृष्टता केंद्र जाने का कार्यक्रम है.
  • 18 जनवरी को नेतन्याहू मुंबई जाएंगे, जहां उनका कारोबार संबंधी बातचीत का कार्यक्रम है.

यूपी भी पहुंचेंगे नेतन्याहू

बेंजामिन नेतन्याहू अपने 6 दिवसीय दौरे पर भारत के कई क्षेत्रों का भी दौरा करेंगे. वह उत्तर प्रदेश के आगरा के ताजमहल भी जाएंगे. इसके बाद 19 जनवरी को नेतन्याहू वापस चले जाएंगे. आपको बता दें कि 1992 से दोनों देशों के बीच स्थापित हुए राजनयिक संबंधों के बाद बेंजामिन नेतन्याहू का यह भारत दौरा काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. इससे पहले 2003 में एनडीए सरकार के दौरान ही इजरायल के तत्कालीन प्रधानमंत्री एरियल शेरॉन भारत आए थे.