क्राइम

इस शख्स ने आखिर ऐसा क्या किया गुनाह, जो सुनाई गई 105 साल कैद की सजा

दुनिया का कोई भी देश हो महिलाओं के साथ छेड़छाड़ की घटनाएँ होती ही रहती हैं। हालांकि इन घटनाओं को रोकने के लिए हर देश में कानून बने हैं और पुलिस भी काफी सख्त है, बावजूद इसके ऐसी घटनाएँ रुकने का नाम ही नहीं लेती हैं। आये दिन अखबार में या टीवी पर बलात्कार या छेड़छाड़ की घटना के बारे में सुनने को मिलता है। ऐसी घटनाएँ समाज के लोगों की मानसिकता को बताती हैं।

कानून का जरा भी डर नहीं है बलात्कारियों को:

कई बार छेड़छाड़ की घटनाएँ ऐसी होती हैं कि सुनकर काफी आश्चर्य होता है। पुलिस और कानून अपना काम करते हैं, लेकिन इससे बलात्कारियों और छेड़छाड़ करने वालों को कोई फर्क नहीं पड़ता हैं। लोगों को अगर ऐसी घटनाओं से डर लगता तो लोग ऐसा काम ही नहीं करते। कई बार सरकार और कानून लोगों को सबक सिखाने के लिए ऐसी सजा देती है, जो समाज में एक मिसाल पेश करती है।

यह सजा है ऐसे लोगों के लिए एक सबक:

हाल ही में कानून ने एक ऐसी ही सजा सुनाई है, जिसके बारे में सुनकर आप हैरानी में पड़ जायेंगे। अमेरिका के कैलिफोर्निया में एक स्कूल के पूर्व कोच को स्कूल में हुए एक कार्यक्रम के बाद 7 लड़कियों से छेड़छाड़ के आरोप में दोषी पाए जाने पर अदालत ने 105 साल की सजा सुनाई है। यह सजा ऐसे काम करने वालों के लिए एक सबक की तरह है, लेकिन उन्हें इस बात से कोई फर्क पड़ेगा या नहीं, यह कहना मुश्किल है।

7वीं बच्ची से छेड़छाड़ की उसके घर पर:

प्राप्त जानकारी के अनुसार पूर्व कोच रोनी ली रोमन को मंगलवार को लॉस एंजेलिस काउंटी की उपरी अदालत में अधिकतम सजा मिली है। डिस्ट्रिक्ट अटॉर्नी ऑफिस ने बताया कि रोमन को 7 जून को बच्चियों से छेड़छाड़ का दोषी पाया गया था। उसनें स्कूल में ही 6 अपराधों को अंजाम दिया था, जबकि 7वें अपराध को उसनें पीड़िता के घर पर अंजाम दिया था। यह घटना वाकई शर्मनाक है।

Back to top button