Breaking News
Loading...
Home / ख़बर / क्राइम / पार्क में PUBG खेल रहे थे 10 छात्र, पुलिस कर ले गई गिरफ्तार

पार्क में PUBG खेल रहे थे 10 छात्र, पुलिस कर ले गई गिरफ्तार

PUBG खेल के लिए इमेज परिणाम

युवाओं के बीच पॉपुलर बन चुके ऑनलाइन गेम प्लेयर्स अननोन बैटल ग्राउंड (Players Unknown Battel Ground) यानी पबजी (PUBG) पर कुछ शहरों में बैन (Ban) लग चुका है. बैन के बाद भी अगर कोई इस गेम को खेलता है तो यूजर के खिलाफ पुलिस (Police) में शिकायत की जा सकेगी और जांच में दोषी पाए जाने पर आईपीसी की धारा 188 के तहत उसे जेल (Jail) जाना पड़ सकता है. इससे पहले गुजरात (Gujarat) के राजकोट (Rajkot) में बोर्ड एग्जाम के चलते इस गेम को 9 मार्च 30 मार्च तक के लिए बैन लगा दिया गया है. बताते चले गुजरात के राजकोट में कॉलेज के 10 छात्रों को सार्वजनिक स्‍थल पर ऑनलाइन गेम पबजी खेलने पर गिरफ्तार किया गया है। हालांकि, बाद में इन्‍हें बेल पर छोड़ दिया गया।

राजकोट में इन 10 छात्रों को बुधवार को अलग-अलग जगह से यह गेम खेलते हुए पकड़ा गया था। इनके खिलाफ मामला दर्ज करने के बाद इन्हें बेल पर छोड़ दिया गया। एक वरिष्‍ठ पुलिस अधिकारी का कहना था, ‘हम यह कड़ा संदेश देना चाहते हैं कि पबजी को बैन करने वाला नोटिस महज कागज का टुकड़ा नहीं है।’

क्या है पबजी?
पबजी या PUBG एक ऑनलाइन गेम है। इसमें हिस्‍सा लेने वाले खिलाड़‍ियों को खुद को जिंदा रखने और गेम जीतने के लिए दूसरों को मारना पड़ता है। हिंसक प्रवृत्ति के इस खेल का असर छोटे बच्‍चों, किशोरों यहां तक व्‍यस्‍कों को अपनी चपेट में ले रहा है। उनका बर्ताव हिंसक होता देखा गया है।

कुछ ऐसा ही बैन बीते दिनों मोमो चैलेंज पर भी लगाया गया था, जो लोगों को खतरनाक चैलेंजेस की सीरीज पूरा करने के लिए प्रेरित करता था। कुछ दिनों पहले बांद्रा, मुंबई के रहने वाले 11 साल के एक बच्चे ने ऑनलाइन गेम पबजी पर बैन लगाने के लिए सरकार को चिट्ठी लिखी थी।

जब PUBG पर पीएम मोदी बोले थे – टेक्नोलॉजी से बच्चों को दूर करना ठीक नहीं…

मालूम हो कि कुछ माह पहले हुए ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम में पीएम मोदी ने PUBG को लेकर एक अभिभावक के सवाल पर कहा था कि ऑनलाइन गेम समस्या भी है और समाधान भी है. लेकिन यदि हम बच्चे को टेक्नोलॉजी से दूर कर दें तो यह ठीक नहीं होगा. इससे दूरी बनाना सही नहीं है. यदि मां- बाप थोड़ी रूचि लें. खाना खाते वक्त चर्चा करें उसे प्रोत्साहित करें तो ठीक होगा.

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com