इन 2 मंत्रों का जिसने किया सोने से पहले जाप, उसपर हमेशा बने रहेगा देवी लक्ष्मी का हाथ

375

इस दुनिया में धन एक ऐसी वस्‍तु है जो हर इंसान के अंदर लालच पैदा कर देती है। वहीं ये बता दें कि पैसा पाने के चक्‍कर में हर व्‍यक्ति कुछ भी करने को तैयार हो जाता है। दिन रात मेहनत करता है वहीं कई बार इतना करने के बावजूद अगर व्‍यक्ति पैसे नहीं कमा पाता है तो वो बेहद ही ज्‍यादा परेशान रहता है। जैसा कि आप सभी जानते हैं धन और हमारी इच्छाओं का एक गहरा ताल्लुक है। यही कारण है कि यही इच्छाएं ही हमें धन पाने के लिए मजबूर बनाती हैं।

laxmi
SOURCE: google

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में जैसे-जैसे हम धन पाते हैं वैसे वैसे हमारी इच्‍छाओं में वृद्धी होने लगती है लेकिन इस भाग दौड़ में हम अपनी जिंदगी को मानो भूल ही जाते हे। वैसे आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि अगर आप धन पाने के इच्छुक हैं लेकिन आपके सारे प्रयास विफल हो जाते हैं। वहीं शास्‍त्रों में ऐसे अचूक मंत्र बताए गए हैं जिसे अगर कोई व्‍यक्ति हर रोज सोने से पहले करता है तो उसे धन की प्राप्ति हो सकती है।

वहीं ये बात तो हर कोई जानता है कि मां लक्ष्मी को धन की देवी कहा जाता है। मां लक्ष्मी भगवान विष्णु की पत्नी है इसीलिए पूरे संसार में उन्हें सुख समृद्धि लाने वाली मां कहकर पूजा जाता है। आज हम आपको उन मंत्र के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि श्री कृष्ण के नाम के महामंत्र हैं और इनके बारे में शास्त्रों में बताया गया है कि इन मंत्रों का जाप करने से व्यक्ति के सभी तरह के कष्ट दूर हो जाएंगे।

इतना ही नहीं आपको ये भी बता दें कि इन मंत्रों में पूरा ब्रह्मांड समाया हुआ है जिसका 108 बार जाप करके हम अपनी हर मनोकामना पूरी कर सकते हैं। इस बारे में खुद शास्‍त्रों में भ्‍ीा बताया गया है। इतना ही नहीं इस मंत्र के जाप से आपको अपार धन की प्राप्ति हो सकती है लेकिन एक बात का खास ध्‍यान रखना चाहिए कि इस मंत्र के एक अक्षर गलत पढ़ने से भी आपको इसके लाभ की प्राप्ति नहीं होगी।

श्रीकृष्ण मंत्र- ‘ऊं श्रीं नमः श्रीकृष्णाय परिपूर्णतमाय स्वाहा’।
धर्म ग्रंथों में उल्लिखित यह मंत्र भगवान कृष्ण का सप्तदशाक्षर महामंत्र है। इसका जाप सौ या दो सौ नहीं, बल्कि पूरे पांच लाख बार जाप करने से ही फल प्राप्त होता है। इसलिए आप हर रात सोने से पहले इस मंत्र का जाप अवश्य करें।
श्रीकृष्ण मंत्र- ‘कृं कृष्णाय नमः’

ये दूसरा मंत्र श्रीकृष्ण का मूलमंत्र है। इस मूलमंत्र का जाप अपना सुख चाहने वाले प्रत्येक मनुष्य को प्रातःकाल नित्यक्रिया व स्नानादि के पश्चात एक सौ आठ बार करना चाहिए। ऐसा करने वाले मनुष्य सभी बाधाओं एवं कष्टों से सदैव मुक्त रहते हैं। इस मंत्र से कहीं भी अटका धन तुरंत प्राप्त होता है।

वहीं ये भी ध्‍यान रहे कि हर माह आप पहले शुक्रवार को सुबह स्नान करने के बाद घर के पूजा स्थान में घी का दीपक जलाकर मां लक्ष्मी को मिश्री और खीर का भोग लगायें और माँ लक्ष्मी के मंत्र ‘ॐ श्रीं श्रीये नम:’ का 108 बार जाप करें इससे भी आपको धन लाभ होगा।