सीएम कैप्टन ने कहा- सिद्धू का अपना नजरिया, मैं फौजी हूं नहीं जाऊंगा पाकिस्तान

0
72

डेरा बाबा नानक (गुरदासपुर)। एक तरफ कैप्टन सरकार के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू दूसरी बाद पाकिस्तान जाने को तैयार हैं, वहीं सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान जाने से साफ इन्कार कर दिया है। श्री करतारपुर साहिब के लिए कॉरिडोर की नींव रखने डेरा बाबा नानक पहुंचे कैप्टन ने मीडिया से बातचीत में कहा कि सिद्धू का पाकिस्तान जाने का फैसला उनका व्यक्तिगत है। उनके सोचने का अपना नजरिया है, लेकिन जब पड़ोसी देश भारतीय सैनिकों व नागरिकों की हत्या की जा रही हो तो वह निजी तौर पर वहां जाने संबंधी नहीं सोच सकते। एक फौजी होने के नाते वह मासूम लोगों की हत्याओं को सहन नहीं कर सकते।

इससे पहले कैप्टन ने डेरा बाबा नानक ने मंच से कहा कि भारत में आतंकवाद व अन्य घृणित कामों में पाकिस्तान की भूमिका दुनिया अच्छे तरीके से जानती है। पाक की सोच का पठानकोट, मुंबई, दीनानगर और जम्मू-कश्मीर के आत्मघाती हमलों से पता चलता है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार भी इससे अच्छी तरह से वाकिफ है। वे पाकिस्तान में गुरुधामों में जाना चाहते हैं, मगर मौजूदा परिस्थितियों में वे ऐसा नहीं कर सकते। उन्होंने अपने स्टैंड को दोहराते हुए कहा कि जब तक भारत में पाक की आतंकी गतिविधियां नहीं रुकती, तब तक वह पाकिस्तान में नहीं जाएंगे।

पाक सेना प्रमुख को शर्म आनी चाहिए

मीडिया से बातचीत में कैप्टन ने कहा आज भी पाकिस्तानी स्नाइपरों ने एक भारतीय सैनिक की हत्या की। ऐसे हालात में वह पाकिस्तान कैसे जा सकते हैं। उन्होंने पाक आर्मी चीफ बाजवा को चेतावनी देते हुए कहा कि उन्हें शर्म आनी चाहिए कि अदलीवाल में ग्रेनेड हमले में 3 लोगों की जान गई और 19 लोग अभी भी उपचाराधीन है।

केंद्र सरकार आंखें बंद नहीं कर सकती

केंद्र सरकार की ओर से दो मंत्रियों को पाकिस्तान भेजने के फैसले पर कैप्टन ने कहा कि केंद्र सरकार को जो ठीक लगता है, वह करे लेकिन वे निजी तौर पर महसूस करते हैं भारतीय सैनिकों व नागरिकों की भावनाओं के प्रति और संवेदनशीलता दिखानी चाहिए। पाकिस्तान की नीति आतंकवादी ग्रुपों को समर्थन के मद्देनजर भारत में जो हो रहा है, केंद्र सरकार इससे अपनी आंखें बंद नहीं कर सकती।