सरहद के साथ अब मोबाइल ऐप पर जंग : चीनी टिकटॉक vs भारत का ‘चिंगारी’  

0
234

नई दिल्ली
चीन के टिकटॉक (TikTok) की टक्कर में आए ‘देसी’ ऐप चिंगारी (Chingari) को भारत में शानदार रिस्पॉन्स मिला है। इस ऐप के सिर्फ 72 घंटे में 5 लाख से ज्यादा डाउनलोड्स हो गए हैं। चिंगारी भी टिकटॉक की तरह शॉर्ट विडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म है। इस ऐप के डिवेलपर्स ने अपने एक बयान में कहा, ‘मेड इन इंडिया ऐप की पॉप्युलैरिटी लगातार बढ़ रही है क्योंकि यूजर्स चाइनीज सोशल ऐप्स को बॉयकाट कर रहे हैं।’ गलवान वैली में चीन और भारतीय सैनिकों की बीच हुई झड़प के बाद भारत में लगातार चीन के प्रॉडक्ट्स को बॉयकाट करने की मुहिम तेज हो रही है। इस झड़प में 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे। घटना 15 जून को पूर्वी लद्दाख के गलवान वैली में हुई थी।

ऐप डिवेलपर्स ने क्या कहा ?
चिंगारी ऐप के डिवेलपर्स बिस्वात्मा नायक और सिद्धार्थ गौतम ने कहा, ‘पॉप्युलर विडियो शेयरिंग ऐप करीब 5,00,000 यूजर्स सिर्फ घंटे में बना लिए, और सब्सक्राइबर लगाता चिंगारी परिवार में शामिल हो रहे हैं।’

मित्रों ऐप को पीछे छोड़ा

ऐप डिवेलपर्स का दावा है कि इस ऐप ने टिकटॉक के क्लोन ऐप मित्रों (Mitron) ऐप को पीछे छोड़ दिया है। उन्होंने आगे कहा कि गूगल प्ले स्टोर पर चिंगारी पहले नंबर पर ट्रेंड कर रहा है।

चिंगारी ऐप में क्या है खास ?
चिंगारी ऐप में विडियो को अपलोड और डाउनलोड किया जा सकता है। इसके अलावा इस ऐप में फ्रेंड्स के साथ चैटिंग, नए लोगों से बातचीत, फीड के जरिए ब्राउजिंग के साथ वॉट्सऐप स्टेटस, विडियो, ऑडियो क्लिप्स, GIF स्टिकर्स और फोटोज के साथ क्रिएटिविटी की जा सकती है।

टिकटॉक की टक्कर में आया था Mitron

यह ऐप टिकटॉक के देसी वर्जन के तौर पर लॉन्च किया था। इसे लोगों ने हाथों हाथ लिया। आलम यह रहा कि एक महीने के अंदर ही इस ऐप के डाउनलोड्स की संख्या 50 लाख के पार पहुंच गई। इस ऐप को लेकर भारत में काफी चर्चा हुई थी। बाद में इस ऐप का पाकिस्तानी कनेक्शन भी सामने आया था। इसके बाद इस ऐप को प्ले स्टोर से हटा दिया गया था।