उत्तर प्रदेश

शिवपाल पर मायावती ने ली चुटकी तो हंस पड़े भतीजे अखिलेश, फिर चाचा ने दिया ये जवाब

आज सपा से गठबंधन की घोषणा के बाद जब बसपा सुप्रीमो मायावती भाजपा पर निशाना साध रही थी तभी उन्होंने ने शिवपाल यादव पर भी चुटकी ले ली। जिसके बाद बगल में बैठे अखिलेश यादव भी अपनी हंसी नहीं रोक पाए। दरअसल मायावती ने कहा कि हमारे गठबंधन से डरकर भाजपा अखिलेश यादव का नाम खनन घोटाले में घसीट रही है और सीबीआई का दुरुपयोग कर रही है। मायावती ने कहा, भाजपा की इस हरकत से सपा और बसपा का गठबंधन और मजबूत हुआ है और होगा।

माया ने चाचा पर ली चुटकी

इसके साथ ही शिवपाल यादव पर पानी की तरह बहाया गया भाजपा का पैसा भी बेकार चला जाएगा। मायावती ने कहा कि पर्दे के पीछे से भाजपा द्वारा चलाई जा रही शिवपाल यादव की पार्टी समेत मुस्लिमों, दलितों और पिछड़ों के नाम पर बनाई गई पार्टियों और भाजपा के संगठन के द्वारा खड़े किए प्रत्याशियों को यूपी के लोग अपना वोट देकर बर्बाद नहीं करेंगे।

यूपी की जनता हमारे पवित्र और भाईचारे पर आधारित गठबंधन को नुकसान नहीं पहुंचाएगी। मायावती ने शिवपाल यादव की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी को भाजपा की “बी टीम” करार दिया। जब मायावती ने शिवपाल के खिलाफ ये बातें बोलीं तो सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी अपनी हंसी रोक पाए।

शिवपाल बोले

मायावती की चुटकी पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया शिवपाल यादव ने कहा कि महागठबंधन बिना उनके अधूरा है। उन्होंने कहा कि छोटी और सेक्युलर पार्टियों जब तक एक नहीं होंगी तब तक भाजपा के विजय रथ को रोक पाना मुमकिन नहीं है।

सपा-बसपा की सीटों का हुआ बंटवारा

बता दें कि आज ही मायावती ने कहा कि यूपी में सभी 80 लोकसभा सीटों लेकर हमारा गठबंधन हो गया है। मायावती ने बसपा व सपा 38-38 सीटों पर मिलकर चुनाव लड़ेंगे। जबिक रायबरेली और अमेठी की दो सीटें कांग्रेस के लिए बिना किसी शर्त के लिए छोड़ दी है। जबिक दो सीटें अन्य सहयोगी पार्टियों की लिए हैं।

Back to top button