शानदार योजना : अनलॉक में अगर जमाना है नया कारोबार, तो सरकार आपको देगी ₹10 लाख

0
29

 

नई दिल्ली।
PM Mudra Yojana: अगर आप भी बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, लेकिन आर्थिक संकट के कारण नहीं कर पा रहे हैं तो आपके लिए केंद्र सरकार की मुद्रा योजना एक अच्छा विकल्प है। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना ( Pradhan Mantri Mudra Yojana ) के तहत लोगों को अपना कारोबार शुरू करने के लिए लोन ( Loan ) दिया जाता है। इस योजना ( PMMY ) की सबसे अच्छी बात है कि लोन के लिए आपको किसी गारंटी की ( Loan Without Guarantee ) जरूरत नहीं होती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( pm modi ) ने अप्रैल 2015 में मुद्रा योजना की शुरुआत की थी। इस योजना का मकसद लोगों को स्वरोजगार के प्रति प्रेरित करना है। सरकार इस योजना के तहत 10 लाख रुपये तक लोन उपलब्ध कराती है।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के फायदे
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत कारोबार शुरू करने के लिए 10 लाख तक का लोन दिया जाता है। इसमें तीन प्रकार के लोन होत हैं। छोटे कारोबारियों के लिए शिशु मुद्रा लोन है, जिसमें 50,000 रुपए तक का लोन लिया जा सकता है। वहीं, किशोर मुद्रा लोन में 50,000 रुपए से 5 लाख रुपए तक का लोन दिया जाता है। वहीं, तरुण मुद्रा लोन में 5 लाख रुपए से 10 लाख रुपए तक का लोन मिलता है।

महिलाओं को मिलता है फायदा
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) का पूरा नाम माइक्रो यूनिट डेवलपमेंट रीफाइनेंस एजेंसी (Micro Units Development Refinance Agency) है। इस योजना के तहत व्यवसाय छोटे उद्यमों से शुरू करने वाली महिलाओं को लोन दिया जाता है। इसमें ट्यूशन सेंटर, टेलरिंग यूनिट या फिर ब्यूटी पार्लर आदि शामिल है।

बिना गारंटी लोन की सुविधा
पीएम मुद्रा योजना ( PMMY ) की सबसे खास बात है कि इसमें बिना गारंटी के लोन मिलता है। इसके अलावा लोन के लिए कोई प्रोसेसिंग चार्ज भी नहीं लिया जाता है। मुद्रा योजना में लोन चुकाने की अवधि को 5 साल तक बढ़ाया जा सकता है।

कैसे करें प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लिए आवेदन? ( How to Apply for PM Mudra Yojana )
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत कोई निश्चित ब्याज दर नहीं है। आम तौर पर न्यूनतम ब्याज दर 12% है। मुद्रा योजना के तहत लोन के लिए आपको सरकारी या बैंक की शाखा में आवेदन देना होगा। इसके लिए आपको मकान के मालिकाना हक या किराये के दस्तावेज, काम से जुड़ी जानकारी, आधार, पैन नंबर सहित कई अन्य दस्तावेज देने होंगे।