शर्मनाक: कचरा ढोने वाली गाड़ी में अस्पताल ले गए कोरोना मरीज, देखें VIDEO

0
55

आंध्र प्रदेश में प्रशासन की लापरवाही थमने का नाम नहीं ले रही है। कुछ दिन पहले कोरोना वायरस के कारण जान गंवाने वाले लोगों के शवों को ट्रैक्टर-ट्रालियों और JCB में ले जाया जा रहा था। अब कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों को कचरा ढोने वाली गाड़ियों में भरकर अस्पताल ले जाया जा रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने इन घटनाओं पर निराशा जताई है। उन्होंने एक वीडियो ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

नायडू ने पूछा- इनसे इंसानों की तरह बर्ताव क्यों नहीं किया जा रहा?

वीडियो शेयर करते हुए नायडू ने कहा, “विजयनगरम जिले के जारजापुपेटा की BC कॉलोनी के तीन कोरोना मरीजों को कचरा ढोने वाली गाड़ी में अस्पताल ले जाया गया है। कोरोना के बारे में पता नहीं, लेकिन ये असहाय मरीज किसी दूसरी खतरनाक बीमारी का शिकार हो सकते हैं। इनसे इंसानों की तरह बर्ताव क्यों नहीं किया जा रह है।” वीडियो में दिख रहा है कि तीन लोगों को कचरे वाली गाड़ी में पीछे बैठाकर अस्पताल ले जाया जा रहा है।

यहां देखिये वीडियो

शुक्रवार का है मामला

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद विजयानगरम के जिला मेडिकल और स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर रमना कुमारी ने कहा कि वो मामले की जांच के आदेश देंगी। उन्होंने कहा कि शुुरुआती जानकारी के मुताबिक यह मामला शुक्रवार का है।

पंचायत कमिश्नर ने किया आरोपों से खंडन

वहीं नेल्लिमारला नगर पंचायत के कमिश्नर जेआर अप्पाला नायडू ने कहा, “जिला कलेक्टर के आदेश के मिलने के बाद मैंने जांच के आदेश दिए हैं। मुझे पता चला है कि कचरा ढोने वाली गाड़ी कोरोना के कारण मरने वाले लोगों के अंतिम संस्कार के लिए सोडियम हाइपोक्लोराइट, ब्लीचिंग पाउडर और नमक ढोने के लिए इस्तेमाल की जाती है।” उन्होंने कहा कि गाड़ी में दिख रहे लोग कोरोना संक्रमित नहीं है। यह मरीजों को लाने के लिए इस्तेमाल नहीं की जाती।

पहले भी सामने आ चुकी है लापरवाही

आंध्र प्रदेश में प्रशासन की लापरवाही का यह पहला मामला नहीं है। जून में श्रीकाकुलम इलाके में कोरोना वायरस के कारण जान गंवाने वाले लोगों के शवों को JCB और ट्रैक्टर की ट्रॉली में लादकर लाया जा रहा था। जब इन घटनाओं के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए और प्रशासन की आलोचना शुरू हुई तब अधिकारियों की नींद खुली। इसके बाद आनन-फानन में जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए गए।