विदेशी जमातियों का क्वारंटाइन हुआ खत्म, अब जेल में सेवा करेंगे योगी

0
38

बागपत। जनपद के अंदर नेपाली जमातीयों पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए अस्थाई जेल भेज दिया है। इन पर लॉकडाउन का उल्लंघन करने का मुकदमा दर्ज किया गया था। बागपत और रटौल की मस्जिदों में यह नेपाली जमाती ठहरे हुए थे। शुक्रवार को अदालत में पेश कर इन्हें एमएम डिग्री कॉलेज खेकड़ा में बनी अस्थाई जेल में भेज दिया गया है।

लॉकडाउन का उल्लंघन करने के मामले मेंं जिला प्रशासन ने नेपाली जमातियों पर कार्रवाई की थी। 28 नेपाली जमातीयों को खेकड़ा की एमएम डिग्री कॉलेज में बनी अस्थाई जेल में भेज दिया गया है। ये सभी नेपाली जमाती रटौल और बागपत की मस्जिदों से पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए थे। 17 नेपाली जमाती 19 मार्च को रटौल गांव की एक मस्जिद में ठहरे थे। जबकि 11 जमाती बागपत कस्बे के एक मकान से बरामद किए गए थे।

यह सभी जमाती दिल्ली की हजरत निजामुद्दीन मरकज से बागपत पहुंचे थे। पता चलने पर पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर क्वारंटाइन कर दिया। यह जमाती कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद कोविड-19 अस्पताल खेकड़ा में भर्ती कराए गए थे। जिसमें से एक जमाती खिड़की तोड़कर भी भागा था। हालांकि, 24 घंटे में ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया था।

एसपी बागपत प्रताप गोपेंद्र यादव का कहना है कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर धारा 188, महामारी अधिनियम की धारा 3 और आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51 समेत पांच धाराओं में इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था।