योगी खुद बनवा रहे जो विंध्य कॉरिडोर, उसके विरोध पर अड़े ये बीजेपी विधायक

0
51

सीएम योगी आदित्यनाथ के ड्रीम प्रोजेक्ट विंध्य कॉरिडोर का भाजपा के ही एक विधायक विरोध कर रहे हैं. ऐसा करने वाले विधायक हैं मिर्जापुर से चुनकर विधानसभा पहुंचे रत्नाकर मिश्रा. इस कॉरीडोर का खुला विरोध करने के साथ ही उन्होंने इसके लिए विंध्याचल स्थित विंध्यवासिनी मंदिर का अधिग्रहण होने पर इस्तीफे का एलान भी किया है.

विधायक रत्नाकर मिश्रा ने शनिवार की शाम विंध्याचल स्थित प्रशासनिक भवन पर विंध्य कॉरिडोर की जद में आने वाले समस्त भू-स्वामियों की बैठक रखी और उनके समस्या के निराकरण का आश्वासन दिया. इसमें नगर मजिस्ट्रेट सुशील लाल श्रीवास्तव व पंडा समाज के अध्यक्ष पंकज द्विवेदी भी मौजूद रहे.

बैठक के दौरान विंध्याचलवासियों ने विंध्य कॉरिडोर का खुला विरोध करते हुए एक भी इंच जमीन न देने की बात कही. इस पर विधायक ने 15 दिसम्बर को मुख्यमंत्री से मिलकर उनके समस्या के निराकरण का भरोसा दिलाया.

जब लोग बोले कि विंध्यवासिनी मंदिर भी अधिग्रहित किए जाने की बात सामने आ रही है. तो विधायक ने कहा कि मंदिर अधिग्रहण की बात अफवाह है और अगर सरकार ने मंदिर अधिग्रहण किया तो मैं विधायक पद से इस्तीफा दे दूंगा लेकिन मां विंध्यवासिनी मंदिर को ट्रस्ट बनने नहीं दिया जाएगा.

बैठक के उपरांत सभी लोगों ने अपनी रोजी-रोटी के सवाल को नगर विधायक के समक्ष रखा. साथ ही यह प्रश्न भी उठाया कि विंध्य कॉरिडोर क्यों बनाया जा रहा है? इससे स्थानीय लोगों को क्या लाभ होगा?