यूपी में कोरोना हुआ भयावह, मौत के सारे रिकॉर्ड टूटे, योगी ने बड़े आदेश जारी किए

0
32

 

लखनऊ. यूपी में कोरोना (Coronavirus in UP) की स्थिति और भयावह होती जा रही है। बीते एक हफ्ते से जहां प्रतिदिन मरीजों की संख्या 3500 के इर्द गिर्द ही थी, तो वहीं शुक्रवार को सभी रिकॉर्ड्स को बौना साबित करते हुए 4,453 नए कोरोना (Corona) पॉजिटिव मामले सामने आ गए। इसी के साथ ही यूपी में कुल संक्रमितों की संख्या 85,261 पहुंच गई है। इनमें एक्टिव मामलों की कुल संख्या 34,968 है। पूरी तरह ठीक होकर डिस्चार्ज लोगों की संख्या 48,663 हो गई है। कोरोना से अब तक 1,630 संक्रमित लोगों की मृत्यु हुई है। आज लखनऊ में 562 नए केस मिले हैं।

मरीजों के इलाज के लिए धन की कमी नहीं होनी चाहिए- सीएम

यूपी में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सीएम योगी (CM Yogi) ने शुक्रवार को समीक्षा बैठक की। इसमें उन्होंने जिलों को आर्थिक मदद पहुंचाई। उन्होंने कहा कि मरीजों के इलाज के लिए धन की कमी नहीं होनी चाहिए और जिलों को इसके लिए अतिरिक्त राशि उपलब्ध कराई जानी चाहिए। सीएम ने साथ ही मेडिकल कॉलेजों में विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम भेजने के निर्देश दिए। लखनऊ में समन्वय के लिए अलग टीम बनेगी। यह टीम कोविड चिकित्सालयों का भ्रमण कर इन अस्पतालों की चिकित्सा व्यवस्थाओं की जानकारी प्राप्त करेगी व आवश्यकतानुसार अन्य प्रबन्ध भी सुनिश्चित कराएगी।

25 लाख से कम जनसंख्या वाले जिलों को 3 करोड़-
कोरोना के बढ़ते मामलों पर सीएम योगी लगातार नजर बनाए हुए हैं। सीएम योगी ने कोविड-19 से प्रभावित मरीजों को सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराए जाने के निर्देश देते हुए जिलों के आर्थिक मदद पहुंचाई है। सीएम योगी 25 लाख से कम जनसंख्या वाले जिलों को 3 करोड़ तथा 25 लाख से अधिक आबादी वाले जिलों को 5 करोड़ रुपये उपलब्ध कराएं। उन्होंने अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा बैठक में कहा कि जिला स्तर पर कोविड-19 की उपचार व्यवस्था को मजबूत करने में यह राशि खर्च होगी। जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी की कमेटी की संस्तुति पर यह राशि खर्च की जा सकेगी। संक्रमित व्यक्ति को कोविड चिकित्सालय में बेड उपलब्ध होंगे। एल-2 तथा एल-3 कोविड अस्पतालों में पर्याप्त संख्या में बेड की व्यवस्था के भी उन्होंने निर्देश दिए हैं। उन्होंने वहां पर सीनियर डॉक्टरों को राउंड पर जाने के निर्देश दिए हैं। सभी चिकित्सालयों में ऑक्सीजन सहित सभी बुनियादी सुविधाएं व अस्पताल की श्रेणी के आधार पर वेंटिलेटर की भी व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

एक दिन में हुए सर्वाधिक टेस्ट-
उत्तर प्रदेश के उपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में 1,15,618 सैंपल्स की टेस्टिंग की गई। जो अब तक प्रदेश में एक दिन में की गई सर्वाधिक टेस्टिंग संख्या है। अब तक प्रदेश में कुल 23,25,428 टेस्ट किए गए हैं। कल 5 सैंपल के 3358 पूल लगाए गए जिसमें से 531 में पॉजिटिविटी पाई गई और 10 सैंपल के 302 पूल लगाए गए जिसमें से 30 में पॉजिटिविटी पाई गई। उन्होंने बताया कि अब तक सर्विलांस से 40823 इलाकों में 1,47,08,791 घरों का सर्विलांस किया गया है, जिसमें 7,44,89,777 लोग रहते हैं।