यूपी के बजट पर अखिलेश-माया ने उठाए जो सवाल, उनका करारा जवाब दी योगी सरकार

0
84

यूपी बजट 2020 के पेश होने के बाद योगी सरकार को विपक्षी पार्टियां कटघरे में खड़ा करने लगी है. इस पर जवाब देने के लिए सरकार की तरफ से कानून मन्त्री बृजेश पाठक आगे आये हैं. बृजेश पाठक ने अखिलेश यादव से पूछा कि क्या वह लोकतांत्रिक व्यवस्था बदलने वाले हैं? मायावती के बयान पर बृजेश पाठक ने कहा कि जिन पार्टियों को जनता ने नकार दिया है उनसे आप उम्मीद ही क्या कर सकते हैं. बृजेश पाठक ने कहा कि सरकार का यह बजट उत्तर प्रदेश को आगे लेकर जाने वाला बजट है. इसमें सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है.

बाराबंकी में मंगलवार को कचहरी परिसर में एक सभागार के लोकार्पण के लिए पहुंचे प्रदेश सरकार के कानून मन्त्री ब्रजेश पाठक ने सरकार को घेरने में लगे विपक्षी पार्टियों को जम कर खरी खोटी सुनाई. ब्रजेश पाठक ने सरकार के बजट को चहुमुखी विकास का पूरक बताते हुए कहा कि इसमें हर वर्ग का ध्यान रखा गया है. यह बजट प्रदेश को आगे लेकर जाने वाला बजट है.

बता दें कि अखिलेश यादव ने एक बयान में कहा था कि यह बजट युवाओं को निराश करने वाला है. इसका जवाब देते हुए पाठक ने कहा कि वह पहले इस बात को स्पष्ट कर दें कि इस बजट से युवा कहाँ निराश है. मैं जवाब देने को तैयार हूँ. इस बजट में युवाओं का ध्यान रखा गया है. युवाओं के लिए बजट तैयार हुआ है.

अखिलेश यादव द्वारा दिए गए “सरकार का अन्तिम बजट है” का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि सरकार 5 साल की होती है. यह हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्था है, अब वह लोकतांत्रिक व्यवस्था बदलने जा रहे हैं क्या? इसी तरह मायावती द्वारा सरकार के बजट विरोधी बयान पर बृजेश पाठक ने कहा कि अब उनसे उम्मीद ही क्या की जा सकती है. यह सब वह पार्टियाँ हैं जो जनता द्वारा नकारी जा चुकी है.