बुरी नज़र से बचने के लिए इन अंगों पर भी लगा सकते हैं काला टीका, जानें सही नियम

0
139

कहा जाता है जिसे बुरी नजर लग जाए तो उसकी जिंदगी अचानक से बदल जाती है। आपने कई बार महसूस किया होगा कि किसी की लाइफ अच्छी खासी चल रही है और एकाएक कुछ ऐसा हो जाता है कि वो बर्बादी की कगार पर पहुंच जाती है। तो कहा जाता है कि इसके पीछे की वजह बताई जाती है बुरी नजर का लगना। बच्चों को तो जल्दी ही नजर लग जाती है, लेकिन बुरी नजर से बचने के लिए कुछ उपाय किए जाते हैं जो कि काफी फायदेमंद साबित होते हैं। इनमें से एक होता है काले टिका का उपाय। काला टिका नजर को काटता है माना जाता है कि इसे लगाने से नजर दोष खत्म होता है या फिर अगर नजर लग चुका है तो वो भी खत्म हो जाएगा।

काला टिका नजर में प्रयोग किए जाने वाला सदियों पुराना उपाय है और इसे लोग काफी पहले से भी प्रयोग करते आ रहे हैं। काले टिके के बारे में तो हर कोई जानता है लेकिन सभी को यह नहीं पता होता है कि बुरी नज़र से बचने के लिए शरीर के विभिन्न हिस्सों में काला टिका लगाते हैं? इसे लगाने का सही तरीका क्या होता है या फिर किस जगह लगाते हैं?

बच्चे को कहाँ लगाए काला टिका

सबसे पहले तो बात करते हैं बच्चों की तो बता दें कि अगर किसी बच्चे की उम्र 10 साल से कम हैं तो आप उन्हें ये टिका तीन जगहों पर लगा सकते हैं। सबसे पहला टिका तो आप उनके माथें पर लगा सकते हैं, दूसरा उनके हाथ की हथेलियों पर तो वहीं तीसरा पैर के तलवों पर।

वहीं शिशु अगर अभी नवजात है तो आप इन्हें तीनो जगहों पर काला टिका लगा दे। क्योंकि इनको नजर जल्दी लग जाती है। हालाँकि इस टिके को लगाने के लिए आप जो पदार्थ इस्तेमाल कर रहे हैं उसे डॉक्टर को जरूर दिखा दे। बच्चों की स्किन सेंसिटिव होती हैं वही चीज लगाए जो सेफ हो।

किशोर और युवा कहाँ लगाए काला टिका

अगर बात करें किशोरावस्था या फिर युवाओं की जिनकी उम्र 10 से 30 साल के बीच की होती है तो उनको बुरी नज़र से बचने के लिए ये टिका अपने गले के कंठ, पीठ या फिर माथे पर बिंदी लगाने की जगह लगाना चाहिए। ऐसा करने से लोग आपका कितना भी बुरा चाहे आपको कोई नुकसान नहीं होता हैं।

वृद्ध लोग कहाँ लगाए काला टिका

अब हम बात करते हैं उन लोगों की जो 30 साल से ज्यादा उम्र के हैं जिनके शरीर में कई सारी बीमारियां जन्म लेना शुरू कर जाती है ऐसे में इन लोगों को अगर बुरी नज़र लगाता हैं तो सबसे पहले आपकी सेहत खराब होती हैं। वैसे आपको बता दें कि 30 वर्ष से ऊपर के लोगो को काला टिका हमेशा अपने पाँव की पिंडली यानि की घुटने और एड़ी के बीच का पिछला वाला हिस्से पर लगाना चाहिए। इतना ही नहीं आपको बता दें कि इन लोगों को आप चाहे तो पेट पर भी काला टिका लगा सकते हैं। यह दोनों ही जगहें काला टिका होने पर कोई आपका बुरा नहीं कर पाएगा।