उत्तर प्रदेश

बहुत गुस्से में हैं योगी, जारी किया ऐसा फरमान, अफसरों की नींद उड़ी

सीएम योगी आदित्‍यनाथ उत्तर प्रदेश की कानून व्‍यवस्‍था को लेकर लगातार विपक्ष की आलोचना झेल रहे हैं. ऐसे में सीएम ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों और पुलिस कप्तानों के लिए नया फरमान जारी किया है. इसके तहत अब सुबह 9 बजे से लेकर 11 बजे तक अधिकारियों को अपने दफ्तर में बैठना होगा. इन तीन घंटों के दौरान अधिकारी आम जनता की फरियाद को सुनेंगे और उनकी समस्‍या को निस्‍तारण करेंगे.

गौरतलब है कि सूबे में खराब कानून व्यवस्था को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री मायावती और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव लगातार यूपी की बीजेपी सरकार पर हमलावर हैं. मायावती ने जहां कई बार योगी आदित्यनाथ सरकार पर सवाल खड़े किए तो अखिलेश यादव ने राज्यपाल राम नाईक से मुलाकात कर मेमोरेंडम सौंपा था.

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने सोमवार को ट्विटर पर लिखा, ‘यूपी में अपराध नियंत्रण व कानून-व्यवस्था की बिगड़ी स्थिति के साथ-साथ सर्वसमाज की बहन- बेटियों की जान व इज्जत-आबरू के सम्बंध में अराजकता जैसी स्थिति अति-दुःखद व अति-चिन्ता का विषय.’

इसके पहले अखिलेश यादव ने राज्यपाल राम नाईक से मुलाकात कर प्रदेश की कानून व्यवस्था के मद्दे पर ज्ञापन सौंपा था. अखिलेश यादव ने राज्यपाल से कहा कि वो कानून व्यवस्था पर सरकार को जगाएं. अखिलेश यादव ने राज्य में जंगलराज होने की बात कही.

Back to top button