देश

प्रियंका के बाद कांग्रेस का एक और दांव, इस महारानी ने भी की राजनीति की शुरुआत !

देश मे महिला सशक्तिकरण की बात पिछले काफी समय से हो रही है लेकिन अब इसके नतीजे भी दिखाई देने लगे हैं। हर क्षेत्र मे महिलाएं आगे रही है। राजनीति मे भी महिलाएं अब बहुत पीछे नहीं हैं। कुछ समय पहले प्रियंका गांधी राजनीति मे सक्रिय हुई थी।कांग्रेस महासचिव बनाये जाने के बाद उन्हें पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी बनाया गया है।आप को बता दें कि प्रियंका गांधी के साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी महासचिव बनाया गया और उन्हें पश्चिम यूपी की कमान सौंपी गई।

प्रियंका गांधी के बाद अब एक और महिला राजनीति मे सक्रिय होने जा रही हैं। यह हैं ज्योतिरादित्य की पत्नी प्रियदर्शिनी राजे सिंधिया। खबर है कि भी चुनावी मैदान में प्रचार और प्रसार के लिए उतर गई हैं।इस समय वे मध्य प्रदेश के गुना में 9 दिवसीय जनसंपर्क अभियान मे हैं।

प्रियदर्शिनी सिंधिंया ने सोमवार से गुना मे इस चुनावी अभियान की शुरूआत की है ।उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश के गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र से उनके पति ज्योतिरादित्य वर्तमान सांसद हैं। जानकारो का मानना है कि अगर ज्योतिरादित्य गुना से चुनाव नही लड़ते हैं तो इस स्थिति में कांग्रेस प्रियदर्शिनी को यहां से चुनावी मैदान में उतार सकती है।

प्रियदर्शिनी ने अपने चुनावी अभियान के पहले दिन शिवपुरी में महिलाओं से संपर्क स्थापित किया और देर तक उनसे बातचीत की।वे यहां स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स भी गयी और बच्चों के साथ टेबल टेनिस खेला। प्रियदर्शिनी ने महिलाओं से संवाद के दौरान कहा, “महाराज (ज्योतिरादित्य) आपके लिए कई वर्षों से काम कर रहे हैं। उनके पास काफी उर्जा है और वे ग्वालियर तथा गुना दोनों जगह से प्रतिनिधित्व कर सकते हैं।

यहां यह आप को बता दें कि गुना संसदीय क्षेत्र कांग्रेस का पारंपरिक क्षेत्र है। यहां से ज्योतिरादित्य के पिता माधव राव सिंधिया और उनकी दादी विजया राजे सिंधिया भी प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं। ऐसे मे अगर ज्योतिरादित्य 2019 के चुनाव से अपनी पत्नी को सक्रिय राजनीति में उतार देते है तो यह कोई हैरानी की बात नहीं होगी।इसके बाद वह पूरी तरह ग्वालियर पर ध्यान लगा सकते हैं।

Back to top button