सेहत

प्राइवेट पार्ट से आता है सफेद पानी, मुक्ति मिलेगी इन घरेलू उपायों से

श्वेत प्रदर यानि सफेद पानी की समस्या है जो महिलाओं में होती है। इस समस्या में महिलाओ के योनी मार्ग से सफेद रंग का पदार्थ निकलता है जो महिलाओ में शारीरिक कमजोरी को पैदा करता है। आजकल यह समस्या बहुत ही ज्यादा बढने लग गई है महिलाये इस समस्या से मुक्ति पाने के लिए दवाओ का सहारा लेती है लेकिन इनसे किसी भी तरह कोई फर्क नही पड़ता है। इसके होने के कई कारण जैसे गुप्तांगों की सफ़ाई न करना, ख़ून की कमी, ज़्यादा सेक्स, तेल, मसाले, चटपटे व तीखे पदार्थों का ज़्यादा सेवन, कामुक विचार, वेजाइना में इंफेक्शन, वेजाइना या यूटरस के मुंह पर छाले, पीरियड की विकृति आदि। आज हम आपको कुछ घरेलू तरीको के बारे में बतायेंगे, तो आइये जानते है इस बारे में ….

* रोज़ाना दो-तीन केला खाने से श्वेतप्रदर की समस्या दूर होती है।
* 3 ग्राम आंवले का पाउडर शहद के साथ दिन में तीन बार चाटने से लाभ होता है।
* गूलर का फूल पीसकर और उसमें मिश्री व शहद मिलाकर दो-तीन बार सेवन करने से फ़ायदा मिलता है।
* स़फेद मूसली पाउडर या ईसबगोल को सुबह- शाम शर्बत के साथ पीने से आराम मिलता है।
* हरे आंवले को पीस कर उसे जौ के आटे में मिलाकर उसकी रोटी एक महीने तक खाने से श्वेतप्रदर से आराम मिलता है।

* टमाटर का रोज़ाना सेवन करने से भी फ़ायदा मिलता है।
* फालसे का शर्बत पीने से श्वेत प्रदर में आराम मिलता है।
* कच्ची भिंडी रोज़ सुबह खाने से लाभ होता है।
* मुलहठी 10 ग्राम, मिश्री 20 ग्राम, जीरा 5 ग्राम, अशोक की छाल 10 ग्राम- इन सभी का चूर्ण बनाकर रख लें। इसमें 3 से 4 ग्राम चूर्ण दिन में तीन बार खाएं।
* कच्चे केले को सुखाकर चूर्ण बना लें। उसमें समान मात्रा में गुड़ मिलाकर दिन में तीन बार कुछ दिन तक लेने से आराम मिलता है।
* सिंघाड़ा, गोखरू, बड़ी इलायची, बबूल की गोंद, शक्कर, सेमल की गोंद समान मात्रा में मिलाकर सुबह-शाम लें।

Back to top button