Breaking News
Home / जिंदगी / सेहत / पैकेट वाला दूध भी हो सकता है नकली, मिनटों में ऐसे करिए पहचान

पैकेट वाला दूध भी हो सकता है नकली, मिनटों में ऐसे करिए पहचान

दूध में मिलावट की खबरें आये दिन सामने आती रहती है। नकली दूध आपको फायदा पहुंचाने की बजाय बीमारियां दे सकता है, इसलिये जरुरी है कि आपके घर में आने वाला दूध शुद्ध है या नहीं, इसकी समय-समय पर खुद की जांच करें। खुला ही नहीं बल्कि पैकेट बंद दूध भी नकली हो सकता है, आइये आपको कुछ ऐसे टिप्स देते हैं, जिससे आप चेक कर सकते हैं, कि आप जो दूध पी रहे हैं, वो असली है या नकली। आज हम आपको कुछ घरेलू टिप्स बताने जा रहे हैं, जिससे आप आसानी से अंदाजा लगा सकते हैं कि दूध असली है या नकली।

दूध को सूंघे
दूध को सूंघकर आप उसकी शुद्धता का अंदाजा लगा सकते हैं। अगर दूध से साबुन जैसी गंध आ रही हो, तो ये सिंथेटिक दूध हो सकता है। इसलिये अगर आपको ऐसी स्मैल आए, तो ऐसे दूध को ना पीएं, अगर आपको इससे भी भरोस ना हो,तो कुछ और तरीकों से भी इसकी जांच कर सकते हैं, क्योंकि ऐसे दूध पीने से आपको फायदा मिलने के बजाय बीमारियां मिलेगी।

हथेली पर रगड़े


थोड़ा सा कच्चा दूध लें, उसे हथेली पर रगड़े और चखें, अगर दूध असली होगा तो उसमें थोड़ी सी चिकनाहट और मिठास होगी। अगर आपके दूध में चिकनाहट और मिठास नहीं है, इसका मतलब आपके घर में भी नकली दूध आ रहा है,ऐसे दूध का सेवन ना खुद करें और ना ही अपने बच्चों को करने के लिये दें, क्योंकि नकली दूध गंभीर बीमारियां दे सकती है।

कलर देखें
असली दूध को गर्म करने (उबालने ) के बाद उसका कलर चेंज नहीं होता है, हां, मलाई आ जाने के बाद जरुर दूध गाढी हो जाती है। जबकि नकली दूध गर्म करने के बाद हल्क पीला हो जाता है।स्टोर करने के बाद भी नकली दूध का रंग बदल जाता है। रंग से भी आप असली और नकली दूध की पहचान कर सकते हैं, इन चीजों को कभी भी इग्नोर ना करें।

झाग ज्यादा नहीं बनता


कई बार नकली दूध को वाशिंग पाउडर मिलाकर बनाया जाता है। इसकी पहचान करने के लिये एक कांच की बोतल में दूध को भरकर तेजी से हिलाएं, अगर झाग बहुत ज्यादा बने और देर तक टिका रहे, तो समझ जाएं कि दूध में वाशिंग पाउडर मिलाकर बनाया गया है।अगर झाग कम बने और कुछ देर बाद ही शांत हो जाए, तो फिर समझ लें कि दूध असली है।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com