नौ साल पहले मामा ने बेचा, फेसबुक ने मिलाया

गुरुग्राम: हरियाणा के गुरुग्राम के राम विहार कॉलोनी से नौ साल पहले लापता हुई लड़की को उसके चचेरे मामा ने ही अगवा कर बेच दिया था, जिसने खरीदा उसने भी कई माह तक लड़की का यौन शोषण किया, फिर दूसरे को बेच दिया। लड़की को कई जगह बेचा गया। खरीदने वाले उसके साथ दुष्कर्म करते रहे। कई साल से लड़की नोएडा में रह रही थी। मोबाइल पर उसने फेसबुक अकाउंट बनाया तो उसका संपर्क उसके भाई से हुआ। जिसके बाद उसने पड़ोस में रहने वाली महिला को आप-बीती बताई।

महिला ने लड़की के परिजनों से संपर्क कर ग्रेटर नोएडा बुला लड़की से मिलवाया। परिजनों ने अब 18 साल की हो चुकी लड़की को राजेंद्र पार्क थाने ले जाकर पुलिस में शिकायत दी। पुलिस ने मामला दर्ज कर तथाकथित मामा व अन्य आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। लड़की का पिता मूल रूप से यूपी के जिला एटा का रहने वाला है। वह गुरुग्राम में ऑटो चलता है। छह नवंबर 2008 को उसकी नौ साल की बच्ची लापता हो गई थी। पिता ने कई जगह खोजा पर बच्ची नहीं मिली। पीड़ित ने पुलिस को शिकायत दी तो पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर ली थी।

Advertisement

चार दिन पहले पिता के पास ग्रेटर नोएडा से एक महिला का फोन आया तो उसने बेटी के बारे में बताया। महिला ने ग्रेटर नोएडा के परी चौक पर बच्ची से मिलवाया तो उसने पहचान लिया था। जिसके बाद वह लड़की को लेकर गुरुग्राम आया और बेटी से आप-बीती सुनी। पीड़िता ने बताया कि उसके चचेरे मामा अगवा कर उसे एटा ले गए थे। वहां एक युवक से रुपये लेकर, उसे उसके हवाले कर दिया।

advt

 

युवक उसे आगरा ले आया और उसने संतोष नामक व्यक्ति को बेच दिया। संतोष ने उसके साथ दुष्कर्म करने के बाद अशोक नामक व्यक्ति के हाथ बेच दिया। कई साल से उसे अशोक ही रख रहा था। उसके साथ दुष्कर्म भी करता रहा। दो साल पहले वह उसे नोएडा ले आया और अपने साथ ही नौकरी कराने लगा। सैलरी भी वही रख लेता था। किसी से बात नहीं करने देता था। करीब डेढ़ साल पहले उसे बच्चा हुआ तो उसने नौकरी छोड़ दी। जिसके बाद वह कमरे में रहने लगी। पीएफ से जो रकम मिली उससे उसने मोबाइल खरीद पड़ोसन की मदद से फेसबुक आइडी बना ली। फेसबुक पर उसने भाई की फोटो देख पड़ोसन को पूरी बात बताई। उसके बाद पड़ोसन ने उसके पिता से संपर्क किया।