जिंदगी

नहाते समय क्या-क्या सोचती हैं लड़कियां, आज जान लीजिए

नहाना हमारे लाइफ का एक महत्पूण हिस्सा है और ये हमारी रोज की दिनचर्या में शामिल है हम बहुत लोगों को ये कहते सुनते है कि उन्हें बाथरूम में बहुत अच्छे से सुकून मिलता है. बाथरूम को लेकर सबकी अपनी सोच हो सकती है लेकिन क्या आप जानते हैं हम सभी नहाने के दौरान लगभग एक सी बातें सोचते हैं. खासतौर पर लड़कियां. नहाने के दौरान ज्यादातर लड़कियों के दिमाग में एक सी ही बातें चलती हैं. आइये जानते हैं लड़कियों के मन कि बातें जो वे नहाते समय सोचती हैं.

# बिना कपड़ों के मैं केसी दिख रही हूं, में मोटी हो गई मुझे जल्दी से जल्दी एक्सरसाइज करना शुरू कर देना चाहिए और खाने पर कन्ट्रोल करना चाहिए.

# अगर मैं चाहूं तो मैं अच्छा गा सकती हूं. मुझे सिर्फ थोड़ी प्रैक्टिस की जरूरत है. ज्यादातर लोगों को बाथरूम में गाना गाने का शौक होता है और वो खुद को एक बेहतरीन गायक भी मानते हैं.

# मुझे नहाने से पहले ही अपने पैरों के बाल शेव कर लेने चाहिए थे. अब मैं स्कर्ट नहीं पहन पाउंगी.

# बाल धोने से पहले सोचती हैं की चलो किसी से मिलना नही है तो कल धो लुंगी.

# लड़कियां इस दौरान अपने बालों के झड़ने के बारे में सोचती है.

# गिरते हुए बालों को देखकर गंजे होने का दर सताना कि मैं कहीं गंजी न हो जाऊ.

# अपने पीरियड्स के बारे में सोचना कि कहीं आज मेरे पीरियड्स की डेट तो नहीं और आज तारीख कौन सी है और अब कितने दिन बाकि है.

Back to top button