राजनीति

धारा 370 पर दोफाड़ हुई कांग्रेस, एक होने के लिए बुलाई आपात बैठक

कांग्रेस पार्टी जहां कश्मीर से धारा 370 हटाने का विरोध कर रही वहीँ पार्टी के कुछ नेताओं ने कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का समर्थन किया है. कुछ कांग्रेस नेताओं द्वारा सार्वजनिक तौर पर पार्टी लाइन से अलग राय रखे जाने से यूपीए चेयर पर्सन सोनिया गांधी और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी नाराज़ बताये जाते हैं. इस बीच कांग्रेस ने अपनी पार्टी के सभी लोकसभा और राज्य सभा सांसदों, महासचिवों और प्रदेश अध्यक्षों की शुक्रवार को बैठक बुलाई है. यह बैठक कांग्रेस के वॉर रूम कहे जाने वाले गुरुद्वारा रकाब गंज रोड पर आयोजित की जा रही है.

पार्टी सूत्रों की माने तो इस बैठक में देश की मौजूदा राजनैतिक परिस्थितियों पर चर्चा के जम्मू कश्मीर को लेकर पार्टी की रणनीति तय की जाएगी. कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारियों को पत्र लिखकर बैठक की जानकारी दी है. इस बैठक में यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी भी मौजूद रहेंगे.

शुक्रवार को दिल्ली में होने जा रही कांग्रेस सांसदों, प्रदेश अध्यक्षों और महासचिवों की बैठक में पार्टी के अंदर अनुशासन बनाये रखने और महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनावो को लेकर भी चर्चा हो सकती है. इतना ही नहीं बैठक में दिल्ली, उत्तर प्रदेश सहित कुछ राज्यों में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर भी विचार किया जा सकता है.

गौरतलब है कि कश्मीर में धारा 370 हटाए जाने के मोदी सरकार के फैसले को लेकर कुछ कांग्रेस नेताओं ने सार्वजनिक तौर पर सरकार के फैसले से सहमति जताई है. इनमे वरिष्ठ कांग्रेस नेता जनार्दन द्धिवेदी, कर्ण सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, दीपेंद्र हुड्डा, मिलिंद देवड़ा शामिल हैं.

 

Back to top button