तानाशाह के गहरे राज हुए फाश, बचपन से पॉर्न का शौक, पिता को पास मिली थी गंदी किताब !

0
323

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन के पब्लिक के सामने आने के बाद से उनकी निजी जिंदगी को लेकर चर्चा एक बार फिर शुरू हो गई है। इसी बीच उनके स्विजरलैंड के स्कूल से नॉर्थ कोरिया वापस आने के बारे में दिलचस्प जानकारी सामने आई है। किम जोंग उन के पिता के जासूसों ने उन्हें एक ऐसी जानकारी दी थी जिसके बाद किम को वापस बुला लिया गया था।

कमरे में मिली थीं मैगजीन

किम जोंग उन 1990 के दशक में स्विजरलैंड के बर्न में एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाई कर रहे थे। उनके पिता ने किम जोंग-इल ने वहां कुछ जासूस भेजे जो किम पर नजर रख रहे थे। इन जासूसों को किम के कमरे से पॉर्न मैगजीन्स मिलीं। यह पता चलते है कि जोंग-इल ने उन्हें वापस कोरिया बुला लिया। उन्हें चिंता थी कि पश्चिमी सभ्यता में उनके बच्चे बिगड़ रहे हैं। जोंग-इल के जासूस चारों बच्चों के बारे में हमेशा उन्हें अपडेट करते रहते थे।

पहचान छिपाकर रहते थे

चारों अपनी पहचान छिपाकर नॉर्थ कोरिया के डिप्लोमैट के बच्चों के तौर पर पढ़ते थे। दरअसल, टीचरों को शक था था कि किम एग्जाम में खराब नंबर आने के बाद चीटिंग का सहारा लेते हैं। इसलिए उनका कमरा चेक किया गया तो कमरे से कुछ और ही निकला। उनकी किताब के बीच जर्मन सेक्स मैगजीन मिली। इसकी जानकारी किम जोंग इल को दी गई तो उन्होंने फौरन बच्चों को वापस बुला लिया।

हर स्विस चीज थी पसंद

किम के बचपन के दोस्त जोआओ माइकल बताते हैं कि दोनों खूब मस्ती करते थे। उन्होंने कहा कि किम काफी अच्छे इंसान थे। उन्हें दूसरे बच्चे काफी पसंद करते थे। वह बास्केटबॉल पसंद करते थे। माना जाता है कि किम को स्विजरलैंड का सबकुछ बहुत पसंद था। वह पार्टी के सीनियर अधिकारियों को स्विस घड़ियां गिफ्ट करते थे।