क्राइम

ड्रग्स खरीदते गिरफ्तार हुईं ‘टीवी की देवी मां’, प्रीतिका चौहान की पूरी कुंडली जानें

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद सामने आए ड्रग एंगल की आंच पर टेलीविजन की दुनिया तक जा पहुंची है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने टीवी एक्ट्रेस प्रीतिका चौहान को 99 ग्राम गांजे के साथ गिरफ्तार किया है। एनसीबी की मुंबई यूनिट के अफसरों ने वर्सोवा इलाके से प्रीतिका को शनिवार को पकड़ा। उन्होंने बताया कि वर्सोवा में रहने वाले दीपक राठौर से उन्हें ड्रग्स मिली है। प्रीतिका को कोर्ट ने 8 नवंबर तक जेल भेज दिया है।

ड्रग्स केस में प्रीतिका का नाम सामने आते ही वह सोशल मीडिया पर ट्रेंड हो रही हैं। हर कोई यह जानना चाहता है कि आखिर वह हैं कौन? तो चलिए जानते हैं प्रीतिका के बारे में कुछ फैक्ट्स…

हिमाचल प्रदेश में हुआ जन्म

प्रीतिका कर्सोग, हिमाचल प्रदेश की रहने वाली हैं। उनका जन्म 19 मार्च 1990 को महुनाग गांव, कर्सोग में हुआ था। उनके पिता का नाम हकम सिंह चौहान और मां का नाम कमला चौहान है। उनकी एक बहन है जिसका नाम शिवानी चौहान है। प्रीतिका एक बी. टेक ग्रेजुएट हैं।

पौराणिक सीरियलों से मिली पहचान

प्रतीका ने 2016 में फिल्म ‘झमेला’ से अपना एक्टिंग डेब्यू किया था जो कि सुपरफ्लॉप साबित हुई थी। इसके बाद प्रीतिका ने टेलीविजन का रुख किया। वह पौराणिक सीरियलों में देवी का किरदार निभाने के लिए फेमस हैं। प्रीतिका टीवी शो ‘संकट मोचन महाबली हनुमान’ में देवी शची का किरदार निभा चुकी हैं ।

इसके अलावा उन्हें स्टार भारत के शो जग जननी मां वैष्णो देवी में भूदेवी के किरदार में भी देखा गया। टीवी पर प्रीतिका का आखिरी शो ‘संतोषी मां-सुनाएं व्रत कथाएं’ रहा जिसमें वह माता पार्वती के किरदार में दिखाई दी थीं। प्रीतिका मशहर पौराणिक सीरियल ‘देवों के देव महादेव’ में भी नजर आ चुकी हैं। उन्हें टीवी शो ‘सीआईडी’ और ‘सावधान इंडिया’ में भी देखा जा चुका है।

16 अक्टूबर को लिखी आखिरी पोस्ट

प्रीतिका सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं। अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर उन्होंने अपने बायो में खुद को अकेली, आवारा, आजाद बताया है। उन्होंने 16 अक्टूबर को आखिरी पोस्ट लिखी थी। इस पोस्ट में प्रीतिका ने खुद की फोटो शेयर करते हुए लिखा था, यह मायने नहीं रखता कि किसने आपको चोट पहुंचाई और आपको तोड़ दिया,यह मायने रखता है कि आपके साथ कौन खड़ा था और किसने आपकी मुस्कराहट वापस लौटाई।

Back to top button