जानिए अंगों के फड़कने के मतलब, इस अंग के फड़कने पर होता है धनलाभ

0
261

आज हम इस पोस्ट में शरीर के अंगों के फड़कने के अर्थों के बारे में जानकारी देने वाले हैं, आपको बता दें कि ज्योतिष के एक ग्रंथ समुद्र शास्त्र में शरीर के अंग फड़कने के मतलब को विस्तार पूर्वक बताया गया है, समुंद्र शास्त्र एक ऐसा शास्त्र है जिसमें मनुष्य के शरीर से संबंधित बहुत सी बातों की जानकारी दी गई है, मनुष्य का शरीर बहुत ही संवेदनशील होता है, मनुष्य के शरीर में एक ऐसी शक्ति होती है जो भविष्य में होने वाली घटनाओं का आभास पहले ही कर लेती है, अक्सर आप लोगों ने गौर किया होगा कि आपके जीवन में कुछ अच्छा या फिर बुरा होने वाला होता है तो आपके मन में अजीब सी हलचल होने लगती है या फिर आपको कुछ महसूस होने लगता है लेकिन अक्सर लोग इन संकेतों को नहीं पहचान पाते हैं।

लेकिन आज आप समुद्र शास्त्र की सहायता से अपने शरीर के फड़कते हुए अंगों का मतलब जान सकते हैं, अगर आप अपने शरीर के फड़कने का मतलब (Body Parts Fadakane Ka Arth) जान लेंगे तो आप भविष्य में होने वाली घटनाओं का पहले ही अनुमान लगा पाएंगे ताकि आप हर परिस्थिति का सामना कर सकें।

शरीर के अंगों के फड़कने का अर्थ

Body Parts Fadakane Ka Matlab, शरीर के अंगों के फड़कने का अर्थ

1. शरीर का बायां या दाएं भाग फड़कने का मतलब

अगर समुद्र शास्त्र के अनुसार देखा जाए तो अगर किसी पुरुष के शरीर का बायां भाग फड़कता है तो इसका मतलब होता है कि उसको भविष्य में कोई दुखद समाचार मिल सकता है यानी उसको भविष्य में दुख का सामना करना पड़ेगा, लेकिन अगर पुरुष के शरीर का दायां भाग फड़कता है तो इससे उसको बहुत ही शीघ्र खुशखबरी प्राप्त होती है, अगर हम महिलाओं की बात करें तो इसका बिल्कुल उल्टा अर्थ होता है, मतलब अगर महिलाओं का बायां शरीर का हिस्सा फड़कता है तो इससे खुशखबरी प्राप्त होती है परंतु दायां हिस्सा फड़कने से शुभ समाचार मिल सकता है।

2. माथा फड़कने का मतलब

समुद्र शास्त्र के अनुसार अगर किसी इंसान का माथा फड़कता है तो इससे भौतिक सुख-सुविधाओं की प्राप्ति होने की संभावना बढ़ती है, अगर किसी की कनपटी फड़कती है तो इससे धन लाभ मिल सकता है।

3. सिर के मध्य भाग के फड़कने का मतलब

अगर किसी व्यक्ति के सिर का मध्य भाग फड़कता है तो इससे उसको धन प्राप्ति होने की संभावना बढ़ती है और बहुत ही शीघ्र वह अपनी परेशानियों से छुटकारा प्राप्त कर सकता है।

4. दायां कंधा और बायां कंधा फड़कने का मतलब

समुद्र शास्त्र के अनुसार यदि किसी इंसान का दायां कंधा फड़कता है तो इसका मतलब होता है कि उसको बहुत ही शीघ्र अत्यधिक धन की प्राप्ति हो सकती है, यदि इंसान का बायां कंधा फड़कता है तो इसका मतलब होता है कि उसको जल्दी किसी कार्य में सफलता हासिल होगी, परंतु अगर दोनों कंधे एक साथ फड़कने लगे तो यह शुभ नहीं माना जाता है, इसका मतलब होता है कि उसका कोई बड़ा वाद विवाद हो सकता है।

5. दाईं कोहनी और बाईं कोहनी फड़कने का मतलब

अगर किसी व्यक्ति की दाई कोहनी फड़कती है तो इसका मतलब होता है कि भविष्य में उसका किसी के साथ वाद विवाद हो सकता है, परंतु अगर बाई कोहनी फड़कती है तो इसका अर्थ होता है कि समाज में उसकी मान-सम्मान और प्रतिष्ठा में बढ़ोतरी होगी।

6. दाएं जांघ और बाएं जांघ फड़कने का मतलब

अगर किसी व्यक्ति की जांघ आंख फड़कती है तो इसका अर्थ होता है कि उसको शर्मिंदगी का सामना करना पड़ेगा परंतु बाई जांघ फड़कने का अर्थ होता है कि उसको बहुत ही शीघ्र धन लाभ प्राप्त हो सकता है।

7. पीठ फड़कने का मतलब

अगर किसी व्यक्ति की पीठ फड़कती है तो इसका अर्थ होता है कि वह किसी बड़ी समस्या में फंस सकता है।

8. हथेली में हलचल होने का मतलब

अगर किसी व्यक्ति की हथेली में हलचल होती है तो इसका मतलब होता है कि वह किसी बड़ी समस्या में आ सकता है, अगर व्यक्ति की अंगुलियां फड़कने लगती है तो इसका अर्थ होता है कि वह अपने किसी पुराने मित्र से मुलाकात कर सकता है।

9. होंठ फड़कने का अर्थ

समुद्र शास्त्र के अनुसार अगर किसी इंसान के होंठ फड़कने लगते हैं तो इसका मतलब होता है कि उसका कोई नया दोस्त आ सकता है।

10. दाई और बाई आंख फड़कने का मतलब

समुद्र शास्त्र के अनुसार अगर किसी इंसान की दाई आंख फड़कती है तो इसका मतलब होता है कि उसकी कोई अधूरी मनोकामना बहुत ही शीघ्र पूरी हो सकती है, अगर बाई आंख फड़कती है तो इससे कोई अच्छी खबर मिलने की संभावना रहती है, परंतु अगर इंसान की दाई आंख काफी देर तक या फिर कई दिनों तक फड़कती रहती है तो यह ठीक नहीं माना जाता है, इसका मतलब होता है कि वह किसी लंबी बीमारी से परेशान हो सकता है।

अगर किसी महिला की बायीं आंख फड़कती है तो इससे महिला को दुख का सामना करना पड़ता है, परंतु बायीं आंख चारों तरफ से फड़कने का मतलब होता है कि उसका शीघ्र ही विवाह का योग बन रहा है।

अगर दाहिने आंख का मध्य भाग फड़कता है तो इससे व्यक्ति अपने लक्ष्य को जल्दी प्राप्त करता है और उसको धन लाभ मिलता है परंतु दाहिनी आंख की चारों तरफ फड़कना व्यक्ति को किसी रोग होने की संभावना बढ़ती है।

11. दोनों गाल एक साथ फड़कने का मतलब

अगर किसी इंसान के दोनों गाल एक साथ फड़कने लगते हैं तो समुद्र शास्त्र के अनुसार यह धन लाभ की सूचना देता है।