चैत्र नवरात्रि : मातारानी की पूजा के दौरान अगर की ये गलती, तो पूरे परिवार पर आ जाएगी विपत्ति

0
72

चैत्र नवरात्रि की शुरुआत कल से हो गई है और समापन 2 अप्रैल को होगा। नवरात्रि के नौ दिन कई शुभ योग भी आयेंगे। चैत्र नवरात्रि में देवी के नौ स्वरुपों की विधिवत पूजा और अर्चना होती है। ऐसी मान्यता है कि नवरात्रि में मां शक्ति की साधना से प्रसन्न होकर माता अपने साधकों पर पूरे वर्ष कृपा बरसाती हैं।

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसी बातों के बारे में जिसका नवरात्रि के दौरान ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है। नवरात्रि के नौ दिनों में इन चीजों के परहेज से आप मां दुर्गा को प्रसन्न कर सकते हैं। जिससे माता रानी की कृपा आप पर बरसेगी।

1. चमड़े की चीजों से बनाएं दूरी
नवरात्रि के दिनों में मां दुर्गा को खुश करने के लिए हमें सबसे पहले चमड़े की चीजों से दूरी बनाकर रखनी चाहिए। नवरात्रि के नौ दिनों में हमें चमड़े के बेल्ट, जूते या चप्पल आदि का इस्तेमाल करने से परहेज करना चाहिए। इसे शुभ नहीं माना जाता है।

2. कैंची या इन चीजों से बनाएं दूरी
शास्त्रों के अनुसार नवरात्रि के दौरान दाढ़ी बनवाना या बाल कटवाना या फिर नाखून काटना जैसे काम करना अच्छा नहीं माना जाता है। इसलिए नवरात्रि के दौरान रेजर, कैंची या फिर नेलकटर जैसी चीजों से हमें परहेज करना चाहिए। इसलिए घर के बड़े भी हमें नवरात्रि के दौरान इन चीजों से दूर रहने की सलाह देते हैं।

3. नवरात्रि में न पहनें काले कपड़े
सनातन धर्म में काले कपड़ों को शुभ नहीं माना जाता है। इसलिए नवरात्रि के दौरान भी हमें काले रंग के कपड़ों से परहेज करने की सलाह दी जाती है। सनातन धर्म में माना जाता है कि काले रंग के कपड़े नाकारात्मक उर्जा को अपनी ओर आकर्षित करते हैं। इसलिए नवरात्रि में मां दुर्गा की पूजा के दौरान इस रंग के कपड़े नहीं पहनने चाहिए।

4. पूजा के दौरान माता को न लगाएं ये भोग
पंडितों के अनुसार मां दुर्गा को अनाज का भोग नहीं लगाना चाहिए। इसे अच्छा नहीं माना जाता है। इसके अलावा नौ दिनों में मां दुर्गा को फल, मिठाईयां, शक्कर, इलायची और मेवे आदि का भोग लगाना चाहिए। इससे मां दुर्गा प्रसन्न होती है और घर में समृद्धि आती है।

5. खाने में न करें लहसून-प्याज का इस्तेमाल
नवरात्रि में खाने में लहसून और प्याज का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। लहसून और प्याज को सनातन धर्म में तामसिक माना जाता है। इसलिए इन नौ दिनों में इसका इस्तेमाल भोजन में या खाने में नहीं करना चाहिए।

6. दिन में सोने से करें परहेज
नवरात्रि के नौ दिनों में दिन में सोने से आपको परहेज करना चाहिए। माना जाता है कि ऐसा करने से आपको मां दुर्गा की पूजा का लाभ नहीं मिल पाता है। इसलिए नौ दिनों तक दिन में न सोएं।