चंद्रग्रहण 2020: गर्भवती महिलाएं रहें संभलकर, भूलकर भी न करें ये गलतियां

0
284

आज रात साल 2020 का दूसरा चंद्रग्रहण पड़ रहा है। चंद्रग्रहण (Lunar eclipse) के दौरान लोगों को सबसे ज्यादा चिंता तब होती है, जब आपके घर में कोई गर्भवती महिला (Pregnant women) हो। चंद्रग्रहण की नाकारात्मक उर्जा सबसे ज्यादा बुजूर्गों पर, बच्चों पर और गर्भवती महिलाओं पर पड़ती है। गर्भवती महिलाओं का शरीर इस समय इतना कमजोर होता है कि चंद्रग्रहण (Lunar eclipse 2020) के दौरान उन्हें कई प्रकार की सावधानियां बरतनी चाहिए। जिससे वो और उनका बच्चा स्वस्थ रहें। इसलिए उनको इन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए-

1. गर्भवती महिला को ग्रहण से पहले स्नान करना चाहिए और ग्रहण खत्म होने के बाद भी नहाना बेहद जरूरी है। क्योकि ग्रहण के दौरान पडऩे वाली नाकारात्मक उर्जा गर्भवती महिला और होने वाले शिशु पर बुरा प्रभाव डालती है।

2. अगर कोई महिला ग्रहण से पहले स्नान न कर पाए तो उसे अपने घर में गंगाजल के छींटे अपने ऊपर डाल लेने चाहिए। ऐसा करने से नाकारात्मक उर्जा आपसे दूर रहेंगी।

3. गर्भवती महिला को ग्रहण के दौरान कुछ भी खाना या पीना नहीं चाहिए। क्योंकि ग्रहण के समय गर्भवती महिला का समूह बहुत कमजोर माना जाता है, और ग्रहण के दौरान उनकी पाचन शक्ति भी कम हो जाती है।

4. अगर आपने ग्रहण से पहले आपने लिए खाने का सामान बना लिया है तो याद से खाने की सभी सामग्री में तुलसी के पत्ते डाल दें। ऐसा करने से खाने में दूषित हवा नहीं पड़ती।

5. ग्रहण के दौरान गर्भवती महिला को नुकीली चीजों का इस्तेमाल जैसे चाकू, सुई आदि चीजों से दूर रहना चाहिए।

6. चंद्र ग्रहण के दौरान गर्भवती महिला को ताला और चाबी जैसी चीजों का भी प्रयोग नहीं करना चाहिए। ऐसा करना मां और होने वाले बच्चे दोनों के लिए अशुभ माना जाता है।

7. ग्रहण के दौरान गर्भवती महिला का शरीर सबसे ज्यादा कमजोर माना जाता है, इसलिए इस दौरान उन्हे अपने शरीर पर खुजली नहीं करनी चाहिए। वरना भविष्य में स्ट्रेच मार्क जैसी समस्या हो सकती है।

8. ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को किसी भी प्रकार की एक्सरसाइज या योगा नहीं करना चाहिए।

9. ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को सोना नहीं चाहिए। इससे बच्चे पर बुरा प्रभाव पड़ता है।

10. ग्रहण के दौरान किसी भी प्रकार के पौधे को छुना नहीं चाहिए और न ही मिट्टी में हाथ डालना चाहिए।

11. ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को अपनी आंखों में जोर नहीं देना चाहिए। उन्हें किताबें पढऩा, टीवी या मोबाइल जैसी चीजों से दूर रहना चाहिए।