छत्तीसगढ़देश

गुड न्यूज़ : छत्तीसगढ़ में कोरोना के टीकाकरण की तैयारी शुरू, हेल्थ वर्कर्स को मिलेगा पहले मौका

छत्तीसगढ़ के लिए अच्छी खबर है। केंद्र सरकार के कहने पर छत्तीसगढ़ में कोरोना के वैक्सीनेशन यानी टीकाकरण की तैयारी प्रारंभ कर दी गई है। छत्तीसगढ़ के लिए अंशुमान मोइत्रा को सीनियर प्रोजेक्ट आफिसर और कलेक्टरों को नोडल अधिकारी बनाया गया है। हेल्थ के पूरे अमले का जिला स्तर पर टीकाकरण किया जाना है। इसके लिए स्टाफ की लिस्ट बनाई जा रही है। अभियान कैसे पूरा किया जाएगा इसके लिए फॉर्मेट तय किया गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने छत्तीसगढ़ को इस बारे में पत्र लिखा है। इसमें टीकाकरण की गाइड-लाइन भी है। एसीएस रेणु जी. पिल्ले ने कलेक्टरों के साथ टीकाकरण की तैयारी शुरू कर दी है। अब जिले में काम करने वाले नियमित कर्मचारियों व संविदा अधिकारियों-कर्मचारियों की जानकारी एचआरएमआईएस पोर्टल में 25 अक्टूबर तक अपडेट करने कहा गया है। स्वास्थ्य विभाग के अलावा मेडिकल सेवा में लगे दूसरे विभागों में काम करने वाले हेल्थ वर्करों की सूची भी बनाई जा रही है।

हर कर्मचारी को मिलेगा यूजर आईडी व पासवर्ड
इस डेटा को 30 अक्टूबर को कोविड-19 वैक्सीनेशन बेनीफिशियरी मैनेजमेंट सिस्टम (सीवीबीएमएस) में अपलोड किया जाएगा। इसके लिए अलग से यूजर आईडी व पासवर्ड दिया जाएगा। इसके अलावा प्राइवेट हास्पीटल्स, स्वास्थ्य क्षेत्र में काम करने वाले गैर सरकारी संगठनों में काम करने वाले हेल्थ वर्कर्स की सूची भी बन रही है। इसे भी 30 अक्टूबर तक सीवीबीएमएस को भेजा जाएगा। इन्हें भी अलग से यूजर आईडी व पासवर्ड दिया जाएगा।

हेल्थ अमले में राहत की सांस
प्रदेशभर में कोविड मरीजों की दिन रात देखरेख में जुटे हेल्थ अमले के लिए बड़ी राहत की खबर है कि वैक्सीनेशन का पहला मौका उन्हें दिया जा रहा है। सबसे अच्छी बात यह कि इसमें सरकारी-गैर सरकारी व सभी तरह के स्टाफ व संस्थाओं को शामिल किया गया है। मालूम हो कि केंद्र ने देश में 50 करोड़ वैक्सीन लाने का दावा किया है। इसमें से छत्तीसगढ़ को भी जरूरत के अनुसार वैक्सीन मिलने की संभावना है।

ये होंगे शामिल

  • मेडिकल कालेज, सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल, सभी स्तर के अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, शहरी पीएचसी, हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर, कैंसर इंस्टीट्यूट एंड हास्पिटल, टीबी अस्पताल और क्लिनिक, डिस्पेंसरी, ट्राइबल हेल्थ सेंटर्स आदि।
  • आयुष हॉस्पिटल्स और डिस्पेंसरी अस्पताल, नगरपालिका, नगर निगम, महानगर पालिका, निकायों के अस्पताल, मेटरनिटी होम, मदर एंड चाइल्ड केयर सेंटर्स, यूपीएससी, यूएचपी, अर्बन कम्युनिटी हेल्थ सेंटर्स आदि।
  • जिला परिषद व पंचायतों द्वारा दी जा रही सुविधाओं
  • राज्य सरकार के वे हेल्थ उपक्रम जो सूची में नहीं हैं।

हम तकनीकी मदद करेंगे : मोइत्रा
छत्तीसगढ़ के स्पेशल प्रोजेक्ट आफिसर अंशुमान मोइत्रा ने कहा कि इस अभियान में तकनीकी मदद करेंगे। तैयारियां चल रही हैं। जब भी वैक्सीन लांच होगी राज्य में काम शुरू हो जाएगा।

Back to top button