गरीबों का राशन डकारे थे जो कांग्रेसी विधायक, अब उनको खाद्य मंत्री बनाई बीजेपी

0
38

भोपाल/ मध्य प्रदेश में शिवराज कैबिनेट (shivraj cabinet) का विस्तार होने के बाद आज सुबह मंत्रियों को विभाग भी बांट दिये गए हैं। जहां एक तरफ कांग्रेस ( mp congress ) से दल बदलकर भाजपा ( mp bjp ) में शामिल हुए सिंधिया समर्थन वाले नेताओं को बढ़िया विभाग दिये जाने की चर्चाएं आम हैं, इनमें सबसे ज्यादा चर्चा का विषय मंत्री बिसाहूलाल सिंह को दिया गया विभाग बना हुआ है। मंत्री बिसाहूलाल सिंह को शिवराज मंत्रीमंडल में खाद्य विभाग का प्रभार सौंपा गया है। हालांकि, इसमें चर्चा इस बात की है कि, जब बिसाहुलाल कांग्रेस से विधायक थे तो उनपर गरीबों के हक का राशन गबन करने का आरोप लगाया गया था, पर आज उन्हें शिवराज सरकार में उसी का विभाग दिया गया है।

लगा था गरीबों का राशन डकारने का आरोप

जब बिसाहूलाल सिंह कमलनाथ सरकार में विधायक थे, तब एक आरटीआई एक्टिविस्ट ने उनपर गरीबों का राशन डकारने का आरोप लगाया था। उस दौरान न सिर्फ विधायक पर बल्कि उनके परिवार पर भी अन्नपूर्णा योजना के तहत बीपीएल परिवारों को एक रुपए प्रति किलो के हिसाब से मिलने वाले गेहूं और चावल लेने का आरोप लगाया गया था। RTI के जरिए मिली जानकारी के मुताबिक, बिसाहूलाल सिंह 2013 से गरीबों का राशन ले रहे थे। हालांकि, उन आरोपों पर सफाई देते हुए बिसाहूलाल सिंह ने कहा था कि, उनका परिवार आर्थिक रूप से सक्षम है। उन्होंने गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों के हिस्से का राशन कभी नहीं लिया। उस दौरान विपक्ष में बैठी भाजपा ने उन्हें आड़े हाथ लिया था।

कांग्रेस ने मांगा जवाब

आज जब बिसाहूलाल सिंह को सिवराज सरकार द्वारा खाद्य महकमा सौंपा गया, तब कांग्रेस द्वारा भी सवाल उठाना लाज़िमी है। शिवराज सरकार में आज हुए विभागों के बंटवारे में बिसाहूलाल सिंह को खाद्य नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण की जिम्मेदारी दी गई है। इसपर कांग्रेस मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने सवाल उठाते हुए कहा है कि, जब बिसाहूलाल कांग्रेस विधायक थे, तब उनपर बीपीएल राशन लेने का आरोप था। उनके और उनके परिवार के राशन कार्ड भी दिखाए गए थे। फिर आपने अपनी कैबिनेट में उन्हें ही खाद्य मंत्री बना दिया, क्यों? लोकतंत्र लोग लाज से चलता है, उत्तर दीजिएगा।

दल बदलकर बने मंत्री

कमलनाथ सरकार में मंत्री न बनाए जाने से नाराज बिसाहूलाल सिंह ने सिंधिया समर्थक चेहरों के साथ दल बदलकर बीजेपी का दामन थाम लिया। इसके बदले शिवराज सरकार में उन्हें मंत्री बनाया गया। मंत्री बनाए जाने के बाद बिसाहूलाल सिंह को खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की अहम जिम्मेदारी मिली है। लेकिन पिछली दफा, जिस तरह भाजपा द्वारा बिसाहू लाल को राशन गबन के आरोप लगाकर आड़े हाथों लिया था, अब वहीं कांग्रेस उन्हीं आरोपों को आधार बनाकर शिवराज सरकार को निशाने पर लिये हुए हैं।