खुलेआम छींककर कोरोना वायरस फैलाने की अपील किया, पहुंच गया सही जगह

0
236

वैश्विक महामारी कोरोना से लड़ने के लिए जहाँ एक तरफ सारी दुनिया एक साथ खड़ी नजर आ रही है वहीं कुछ लोग इस मौके पर भी घृणात्मक विचार फैलाने से बाज नहीं आ रहे. इन्फोसिस में काम करने वाला मुजीब मोहम्मद नामक व्यक्ति ऐसे ही लोगों में शुमार है, जिसे बेंगलुरु पुलिस ने नफरत फैलाने वाले विचारों के आरोप में गिरफ्तार किया.

सोशल मीडिया पर पब्लिक में छींकने की अपील करने वाले मुजीब मोहम्मद के खिलाफ बेंगलुरु पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है. बेंगलुरु पुलिस की अपराध शाखा के ज्वाइंट कमिश्नर संदीप पाटिल ने इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा, “पोस्ट डालने वाले व्यक्ति ने कहा कि लोगों को बाहर जाना चाहिए और छींकना चाहिए तथा वायरस को फैलाना चाहिए. इस व्यक्ति को हिरासत में ले लिया गया है. इसका नाम मुजीब है, जो एक सॉफ्टवेयर कंपनी में काम करता है.”

बता दें कि मुजीब ने एक सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर प्रोफाइल फोटो अपडेट करते हुए उसके कैप्शन में लिखा था, “चलो हाथ मिलाते हैं. बाहर जाइए, खुले मुंह से पब्लिक के बीच छींकिए. वायरस को फैलाइए.”

युवक की इस अपील पर कार्रवाई करते हुए बेंगलुरु पुलिस की अपराध शाखा ने उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया और उसे हिरासत में लिया. पुलिस ने यह कार्रवाई तब की, जब देश में कोरोना वायरस के खिलाफ जंग के तौर पर लॉकडाउन लागू है.