उत्तर प्रदेश

कत्ल हुए विवेक का परिवार बोला- योगी राज में निरंकुश हैं पुलिसवाले

लखनऊ में हुए विवेक तिवारी हत्याकांड के बाद से यूपी की कानून व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं। विवेक की पत्नी कल्पना के बाद उसके एर रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर चाचा तिलकराज तिवारी ने पुलिस को सवालों के घेरे में खड़ा करते हुए उनपर हत्या का आरोप लगाया है।

उन्होंने कहा कि अगर कार से टक्कर मारी गयी थी तो गोली गाड़ी के टायर या शरीर के निचले हिस्से पर मारनी चाहिए थी। गले में गोली मारने का मतलब एनकाउंटर होता है। उन्होंने कहा कि सीएम योगी के राज में अपराधी और पुलिस निरंकुश हो चुके हैं। पुलिस वाले किसी को भी गोली मार सकते हैं और आम जनता को निशाना बना रहे है।

इस मामले में डीजीपी ने माना है कि विवेक की हत्या की गई है। सेल्फ डिफेंस में अपराध करने की इजाजत नहीं दी जा सकती है। जिसके चलते आरक्षी प्रशांत चौधरी व आरक्षी संदीप कुमार को बर्खास्त कर दिया गया है। सीएम योगी ने इस मामले में संज्ञान लेने के बाद डीजीपी ओपी सिंह से बातकर सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं। l

Back to top button