ओपी सिंह को सेवा-विस्तार नहीं देंगे योगी, जानिए कौन हो सकता है अगला DGP !

0
46

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओमप्रकाश सिंह 31 जनवरी को सेवानिवृत हो रहे हैं. पहले उनको तीन माह का सेवा विस्तार देने की चर्चा थी, लेकिन अब शासन ने नए डीजीपी के लिए कुछ नाम केन्द्र सरकार को भेजे हैं. इसके बाद उप्र पुलिस के नए मुखिया को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया हैं.

1983 बैच के आईपीएस अधिकारी ओपी सिंह ने 31 दिसम्बर 2017 को उत्तर प्रदेश पुलिस महानिदेशक के पद का कार्यभार संभाला था. अब वह 31 जनवरी 2019 को सेवानिवृत हो रहे है. चर्चा थी कि उन्हें तीन माह का सेवा विस्तार मिल सकता है, लेकिन राज्य सरकार ने नये डीजीपी के लिए कुछ नाम केन्द्र सरकार को भेजे हैं.

सूबे के नये पुलिस मुखिया पद की दौड़ में करीब छह नाम हैं. इसमें वरिष्ठता के तौर पर सतर्कता अधिष्ठान के निदेशक 1985 बैच के आईपीएस अधिकारी हितेश चन्द्र अवस्थी सबसे आगे चल रहे हैं. वह साफ छवि के अफसरों में गिने जाने जाते हैं. उन्होंने 14 वर्ष तक सीबीआई में सेवा दी है और वर्ष 2021 जून में सेवानिवृत होंगे.

केन्द्रीय प्रतिनियुक्ति पर चल रहे तेज तर्रार 1985 बैच के आईपीएस अधिकारी अरुण कुमार का नाम भी शामिल है. अरुण कुमार सपा सरकार में एडीजी कानून एवं व्यवस्था का पद पर तैनात रहे थे. मुजफ्फरनगर दंगों के बाद उन्हें हटाया गया था. वर्तमान में वह डीजी आरपीएफ पद पर तैनात है.

इसके अलावा 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी राजेन्द्र पाल सिंह का नाम भी चर्चाओं में शामिल है. वह डीजी ईओडब्ल्यू के पद पर तैनात हैं और उन्हें एसआईटी का भी चार्ज मिला हुआ है. वह फरवरी 2023 को सेवानिवृत होंगे.

डीजी जेल आनंद कुमार भी रेस में हैं. वह 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी है. इसी सरकार में वह एडीजी कानून एवं व्यवस्था थे. इस समय उन्हें डीजी होमगार्ड का भी अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है.

1988 बैच के आईपीएस अधिकारी आरके विश्वकर्मा के नाम को लेकर भी चर्चा है. वह वर्तमान में उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड के डीजी के पर तैनात है.