मनोरंजन

अमिताभ बच्चन की जिंदगी की वो गलतियां, जिनके लिये उनको आज भी होता बहुत पछतावा

बच्चन साहब इंडस्ट्री का वो नाम है जो कही न कही देश ही नही बल्कि दुनिया भर में मशहूर है. उनके नाम से उनके करियर शुरू होने के लगभग छः दशक बाद में भी फिल्मे उनके नाम से चल जाती है और उन्हें एक महानतम इंसान के रूप में पेश भी किया जाता है लेकिन अगर कोई महान है भी तो इसका अर्थ ये नही है कि उससे कोई गलती हो ही नही सकती है और ये बात वाकई में सच है. आज हम आपको बताने वाले है अमिताभ बच्चन के जीवन की वो गलतियां जिसे लेकर के उन्हें आज भी बहुत ही ज्यादा पछतावा होता है और वो सोचते है कि काश ये सब न किया होता तो और बेहतर होता.

राजनीति में आना वो अपने जीवन की एक गलती मानते है क्योंकि उनका जन्म एक्टिंग के लिए हुआ है पॉलिटिक्स के लिए नही. राजीव गांधी की सलाह पर उन्होंने चुनाव लड़ा था और जीते भी लेकिन जब वो राजनीति में रहे तो वहाँ के तौर तरीको में वो खुदको संभाल नही पाए और धीरे धीरे उन्होंने खुदको इन सब चीजो से अलग ही कर लिया. आज उनकी पत्नी पॉलिटिक्स करती है मगर वो कभी भी इसके आस पास भी नही फटकते.

अमिताभ बच्चन ने अपने जीवन में कुछ एक फिल्मे की है जो वो शायद न करते तो उनके लिए बेहतर रहता. उन्होंने निशब्द और बूम जैसी फिल्मे की जिसमे काफी गंदगी भी परोसी गयी थी और लोगो को लगता है कि बच्चन साहब की इमेज उस तरह की है ही नही कि वो ऐसी फिल्मो में जाए. अब उन्होंने दोस्ती में या फिर चाहे जिस मकसद से इस तरह की मूवीज कर तो ली लेकिन अब वो उस तरफ दुबारा कभी मुड़कर के भी देखना पसंद नही करते है.

अक्सर लोगो के दिमाग पर स्टारडम चढ़ जाता है और ऐसा ही कुछ नब्बे के दशक में अमिताभ बच्चन के साथ में भी हुआ था. उन्होंने न सिर्फ मीडिया से ढंग से बात करना बंद कर दिया बल्कि एक बार तो उन्होंने गलत व्यवहार भी कर दिया था जिसके बाद में मीडिया उनके बारे में नेगेटिव खबरे दिखाने लगा और उनके करियर को धक्का लगा. हालांकि बाद में उन्होंने अपनी इस आदत को काफी हद तक सुधार लिया और आज भी सुधारे ही हुए है.

Back to top button